scorecardresearch
 

मॉनसून सत्र: विपक्ष के बाद आज सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

इस बैठक के बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने भी सभी दलों की बैठक बुलाई है. इस बार का संसद सत्र 18 जुलाई से शुरू होकर 10 अगस्त तक चलेगा.

पीएम मोदी (फाइल फोटो) पीएम मोदी (फाइल फोटो)

18 जुलाई (बुधवार) से शुरू हो रहे मॉनसून सत्र से पहले मंगलवार को सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई. इस बैठक में पीएम मोदी भी शामिल हुए. यहां सभी पार्टियों के नेताओं से सदन की कार्यवाही को सुचारू रूप से चलाने में सहयोग करने की अपील की जाएगी.

बता दें, विपक्ष इस बार सदन में किसानों की आत्महत्या, भ्रष्टाचार, मॉब लिंचिंग और महंगाई जैसे मुद्दे उठाने की तैयारी में है. आरजेडी के नेता जयप्रकाश यादव का कहना है कि हम चाहते हैं सदन चले, लेकिन जो जरूरी मुद्दे हैं उनको विपक्ष सदन में उठाएगा. चाहे मॉब लिंचिंग का मुद्दा हो या भ्रष्टाचार का मुद्दा, सरकार से सवाल तो पूछे जाएंगे.

इस बैठक के बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने भी सभी दलों की बैठक बुलाई है. इस बार का संसद सत्र 18 जुलाई से शुरू होकर 10 अगस्त तक चलेगा.

राज्‍यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने भी आज शाम 5:30 बजे राज्यसभा के फ्लोर लीडर्स की बैठक बुलाई है. सदन के कामकाज को सुचारू रुप से चलाने के लिए यह बैठक बुलाई गई है. वेंकैया नायडू सभी फ्लोर लीडर्स से सहयोग की बात करेंगे. 

वहीं, मॉनसून सत्र में सरकार को घेरने के लिए विपक्ष ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है. सत्र शुरू होने से ठीक पहले सोमवार को 13 विपक्षी पार्टियों ने बैठक की. बैठक में सरकार को किन मुद्दों पर घेरना है इसपर चर्चा की गई.

सत्र में विपक्षी पार्टियां राफेल डील, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी से लेकर ललित मोदी और विजय माल्या जैसे भ्रष्टाचार के मामले उठाएंगी. इसके अलावा हायर एजुकेशन में एससी-एसटी और ओबीसी के आरक्षण को खत्म करने का सवाल भी उठेगा. इसके साथ ही विपक्षी पार्टियां मॉब लिंचिंग, दलित उत्पीड़न, महिलाओं के खिलाफ अत्याचार जैसे मुद्दे भी संसद में उठाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें