scorecardresearch
 

सज्जन के खिलाफ सिखों की मुहिम से जुड़ी AAP

सिखों के खिलाफ वर्ष 1984 में भड़के दंगे के दौरान दिल्ली कैंट इलाके में 5 लोगों की हत्या से जुड़े एक मामले में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को बरी किए जाने के खिलाफ सिखों के आंदोलन में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (AAP) भी शुक्रवार को शामिल हो गई.

X

सिखों के खिलाफ वर्ष 1984 में भड़के दंगे के दौरान दिल्ली कैंट इलाके में 5 लोगों की हत्या से जुड़े एक मामले में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को बरी किए जाने के खिलाफ सिखों के आंदोलन में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (AAP) भी शुक्रवार को शामिल हो गई.

एएपी के सदस्यों ने शुक्रवार को सज्जन के खिलाफ जंतर-मंतर पर सिखों के प्रदर्शन में हिस्सा लिया. एएपी के सदस्य मनीष सिसौदिया ने कहा, 'हम सज्जन कुमार को बरी किए जाने के खिलाफ अपने सिख भाइयों के प्रदर्शन में उनके साथ हैं. हम इस मुद्दे पर शुक्रवार से अनिश्चितकालीन अनशन करने वाली निरप्रीत कौर के प्रदर्शन में शामिल होंगे.'

कौर के साथ एकजुटता दिखाने के लिए केजरीवाल, सिसौदिया के साथ-साथ एएपी के सदस्य गोपाल राय, संजय सिंह तथा कुमार विश्वास भी एक दिन के अनशन पर बैठेंगे और फिर उनका समर्थन जारी रखेंगे.

सिख समुदाय के लोग मंगलवार से ही सज्जन कुमार को बरी किए जाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. दिल्ली की एक अदालत ने 31 अक्टूबर, 1984 को देश की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद सिखों के खिलाफ भड़के दंगे के दौरान दिल्ली कैंट इलाके में पांच लोगों की हत्या से जुड़े एक मामले में मंगलवार को सज्जन कुमार को बरी कर दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें