scorecardresearch
 

AAP नेता संजय सिंह ने लगाया प्याज घोटाले का आरोप, जांच की मांग

संजय सिंह ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और केंद्र सरकार पर प्याज घोटाले का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा, पासवान जी कह रहे 32 हजार टन प्याज सड़ गई. प्याज सड़ा सकते हो जनता को दे नहीं सकते?

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह की फाइल फोटो (ANI) आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह की फाइल फोटो (ANI)

  • संजय सिंह ने पूरे मामले की जांच की मांग की है
  • संसद परिसर में आप के दो सांसदों ने दिया धरना

आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और केंद्र सरकार पर प्याज घोटाले का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा, 'पासवान जी कह रहे 32 हजार टन प्याज सड़ गई. प्याज सड़ा सकते हो जनता को दे नहीं सकते? प्याज सड़ी है या घोटाला हुआ?' संजय सिंह ने इस पूरे मामले की जांच की मांग की है. इसी मुद्दे को लेकर संसद परिसर में आप के दो सांसद धरना भी दे रहे हैं.

आम आदमी पार्टी के प्याज घोटाले के आरोप को लेकर बीजेपी नेता विजय गोयल ने आजतक से बातचीत में कहा कि आम आदमी पार्टी अब आम आदमी नहीं रह गई है. केंद्र सरकार की तरफ से उनको सस्ते दामों में प्याज दिए गए. उन्होंने जमाखोरी को नहीं रोका और प्याज के दाम बढ़ गए. आम आदमी पार्टी दिल्ली में प्याज के दाम रोकने में असफल रही. मिस्र से भी प्याज मंगाया गया, उसके बावजूद भी इन्होंने प्याज को खरीदा नहीं और अब आरोप केंद्र सरकार पर लगा रहे हैं. इस तरीके के आरोप बेबुनियाद और निराधार हैं.

महंगाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

देश में प्याज की कीमतें आसमान छू रही हैं. 80 रुपये से लेकर 100 रुपये प्रति किलो तक प्याज के भाव हैं. कीमतों में वृद्धि के खिलाफ विपक्षी दल विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. सोमवार को भाकपा के वरिष्ठ नेता बिनय विस्वम ने प्याज और दाल की कीमतों में हुई भारी वृद्धि पर राज्यसभा में चर्चा कराने की मांग की. उन्होंने सदन में नियम 267 के तहत खाद्य पदार्थों की कीमत पर चर्चा करने को लेकर नोटिस दिया है.

सदन के सभापति एम. वेंकैया नायडू को संबोधित अपने पत्र में विस्वम ने कहा है कि यह पूरे देश के लिए बड़ी चिंता का विषय है कि प्याज और दाल जैसी जरूरी खाद्य वस्तुओं की कीमतों में तेजी से वृद्धि हुई है. इससे आम नागरिकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. विस्वम ने कहा, भारी कीमतों के कारण उन्हें खरीद पाने में असमर्थ आम जनता की हर दिन की थाली में वास्तविक आर्थिक मंदी को देखा जा सकता है. इसके अलावा उन्होंने देश के विभिन्न हिस्सों में हो रही प्याज की चोरी और लूटपाट की घटनाओं का भी हवाला दिया है.(एजेंसी से इनपुट)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें