scorecardresearch
 

AAP बैठक: मनीष सिसोदिया ने कहा- दिल्ली की वजह से सुधरी बिजनेस रैंकिंग

माना जा रहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल गुरुवार को तीन बजे के बाद बैठक में पहुंचेंगे. साल में कम से कम एक बार होने वाली इस बैठक का आयोजन बाहरी दिल्ली के अलीपुर में रखा गया है.

आम आदमी पार्टी की 6वीं राष्ट्रीय परिषद की बैठक आज आम आदमी पार्टी की 6वीं राष्ट्रीय परिषद की बैठक आज

आम आदमी पार्टी की 6वीं राष्ट्रीय परिषद की बैठक जारी है. कुमार विश्वास पार्टी सदस्यों के साथ मंच से नीचे बैठे हुए हैं. हालांकि अमानतुल्ला खान अभी तक पार्टी के बैठक में नहीं पहुंचे हैं. इसी दौरान दिल्ली सरकार की उपलब्धियों का ब्यौरा देते हुए मनीष सिसोदिया ने कहा कि अन्य राज्यों से आये कार्यकर्ताओं से दिल्ली सरकार के कामकाज का फीडबैक लिया गया. आम आदमी पार्टी का गठन का करप्शन खत्म करने के मकसद से हुआ है. उसका पहला विपक्ष पंजाब में काम कर रहा है और तीनों एमसीडी में भी.

सिसोदिया ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि करप्शन रोकने के लिए सबसे बड़ा टूल एन्टी करप्शन ब्रांच ही सरकार से छीनकर हमला किया गया. दिल्ली में ईज ऑफ डुइंग बिजनेस की वजह से देश मे नाम हो रहा है. लोग चाहते हैं कि रिश्वतखोरी बंद हो. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस में भारत की रैंकिंग 100वें स्थान पर सिर्फ दिल्ली और मुम्बई की वजह से पहुंची है.

मनीष सिसोदिया ने बताया कि  रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में जहां बिजली का कनेक्शन 148 दिन में मिलता था वो अब 35 दिन में मिल जाता है. हम तो एक आदमी को 1 दिन में कनेक्शन देना चाहते हैं. सेंट्रल सरकार दिल्ली में टांग अड़ाना बंद कर दे तो एक साल में हेल्थ और शिक्षा में बेहतर स्टेट बनाकर दिखा देंगे.

मनीष सिसोदिया ने कहा कि पार्टी की एन्टी करप्शन की तीति बुनियाद थी. मनीष सिसोदिया ने कहा कि मैं नही कहता कि नीचे बाबुओं ने रिश्वत लेनी बंद कर दी. हालांकि टॉप में आज दिल्ली कैबिनेट में एक एक मंत्री रिश्वत नहीं लेता. यहां तक कि सारे मंत्री बुनियादी सेवा भी नहीं लेते हैं. 

सिसोदिया के मुताबिक टॉप लेवल की ब्यूरोक्रेसी में बहुत डर है. नीचे के लेवल में कुछ कुछ है, जहां मौका मिलता है तो पकड़वाते हैं. एन्टी करप्शन ब्रांच न होने से मुश्किल होता है. सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई शुरू हुई है उम्मीद है एन्टी करप्शन ब्रांच वापस दिल्ली सरकार के पास आएगा.

हेल्थ मॉडल मिसाल

सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली का हेल्थ मॉडल दिल्ली ही नहीं देश के लिए मिसाल बन रहा है. लोगों के घर के पास मुफ्त में डॉक्टर इलाज देता है. 200 तरह के टेस्ट फ्री होते हैं, दवाई फ्री मिलती है. 15 से 20 लाख में मोहल्ला क्लीनिक बन रहे हैं. एक हॉस्पिटल बनाने में 300 करोड़ का खर्चा आता है. आज अस्पताल बनाना शुरू करें तो 4 साल का वक़्त गुजर जाता है. इसी की वजह से हमने दूसरा तरीका निकाला है. सरकारी अस्पताल में इलाज नहीं मिल रहा है या 30 दिन या 6 महीने की वेटिंग है तो दिल्ली सरकार प्राइवेट अस्पताल में इलाज करायेगी.

सिसोदिया ने कहा कि हमसे पहले भी किसी ने बिल्डिंग बनवाई थी जितने पैसे में उसने 200 बिल्डिंग में बनवाई उतने में हम 400 बिल्डिंग बनवा देंगे. दिल्ली सरकार टीचर्स को विदेश भेजकर ट्रेनिंग करवा रही है.

माना जा रहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल गुरुवार को तीन बजे के बाद बैठक में पहुंचेंगे. साल में कम से कम एक बार होने वाली इस बैठक का आयोजन बाहरी दिल्ली के अलीपुर में रखा गया है. बैठक में हिस्सा लेने के लिए आप नेता कुमार विश्वास पहुंच गए हैं.

सूत्रों के मुताबिक 'आप की राष्ट्रीय परिषद' में लगभग 300 सदस्य हैं, जबकि आज होने वाली इस बैठक में 150 सदस्यों को विशेष तौर पर आमंत्रित किया जा सकता हैं.

अब से पहले राष्ट्रीय परिषद की बैठक काफी हंगामेदार रही हैं. प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव को निष्काषित किया जाना उन्हीं हंगामों में से एक है. इस बार भी एजेंडे में कुमार विश्वास का नाम शामिल नहीं होने से कार्यकताओं में काफी हलचल है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें