scorecardresearch
 

पूर्वोत्तर के लोगों की सुरक्षा पर संसद एकमत

संसद में विपक्ष की नेता सुषमा स्‍वराज ने कहा है कि पूर्वोत्तर के लोगों के बीच जिस तरीके से भय का माहौल बना है, वह ठीक नहीं है. कर्नाटक में अफवाहों के कारण लोग पलायन कर रहे हैं.

सुषमा स्‍वराज सुषमा स्‍वराज

संसद में विपक्ष की नेता सुषमा स्‍वराज ने कहा है कि पूर्वोत्तर के लोगों के बीच जिस तरीके से भय का माहौल बना है, वह ठीक नहीं है. कर्नाटक में अफवाहों के कारण लोग पलायन कर रहे हैं. उसे रोकने के लिए वहां के गृहमंत्री रेलवे स्‍टेशन गए और उन्‍होंने ने लोगों से अपील की कि वे बैंगलोर छोड़कर न जाएं.

सुषमा स्‍वराज ने संसद से अपील की कि पार्टी लाइन से ऊपर उठकर इस मुद्दे पर सभी एकमत होकर पूर्वोत्तर के लोगों को यह संदेश दें कि वे सभी हमारे भाई-बंधु हैं और हमसब उनके साथ हैं. साथ ही सुषमा स्‍वराज ने कहा कि इस समस्‍या से निपटने के लिए एक हेल्‍पलाइन बनाये जाने की जरूरत है. उन्‍होंने कहा कि संसद में सभी पार्टी के नेता यह एलान करें कि पूर्वोत्तर के सभी हमारे भाई-बंधु हैं. उनकी सुरक्षा की जिम्‍मेदारी हमारी है. वो जहां चाहे रहें, जहां चाहे पढ़ें उन्‍हें कोई परेशानी नहीं होगी. हमसब उनके साथ है.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से सदन को आश्‍वस्‍त किया कि पूर्वोत्तर के लोग सुरक्षित हैं. उन्‍होंने कहा कि अफवाह फैलाने वालों को सजा मिलनी चाहिए.

अरुणाचल प्रदेश से सांसद निनॉग इरिग ने कहा कि हमें महाराष्‍ट्र, केरल और आंध्र प्रदेश सरकार की ओर से सुरक्षा का आश्‍वासन मिला है, लेकिन हम चाहते हैं कि बच्‍चों के मन से भय हटाने की दिशा में काम करें. सांसद निनॉग ने कहा कि संसद में इस विषय पर चर्चा के लिए जिस तरीके से पक्ष एवं विपक्ष इस पर ध्‍यान दे रहें हैं, उससे एक सकारात्‍मक संदेश गया है. निनॉग ने कहा कि अगर देश के बाहर के लोग हमें तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं, तो उन्‍हें यह बताने का वक्‍त है कि हमसब एक है, हम भारत के नागरिक एक हैं.

सपा के सांसद कुंवर रेवती रमण सिंह ने कहा कि जिस तरीके से अफवाह फैलाई जा रही है, उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए. बीएसपी के घोसी से सांसद दारा सिंह चौहान ने कहा कि देश में जिस तरीके से माहौल को खराब करने की कोशिश हो रही है, उसके पीछे एक साजिश है. उस साजिश का खुलासा होना चाहिए. यह साजिश संविधान के खिलाफ भी है और उसे खंडित करने का प्रयास किया जा रहा है. दारा सिंह ने कहा कि इस साजिश का खुलासा होना चाहिए.

जद यू के सांसद शरद यादव ने कहा कि एसएमएस बंद करने से समस्‍या का समाधान नहीं होने वाला है. यादव ने कहा कि समाज के जागने से देश मजबूत होगा. हमलोग राम और रहीम पैदा कर रहे हैं लेकिन इंसान पैदा नहीं कर रहे हैं. सारी समस्‍या की जड़ यही है.

सपा नेता रामगोपाल यादव ने कहा कि सोशल नेटवर्किंग साइट पर बैन लगा देना चाहिए. यह समस्‍या इसके कारण ही विकराल हुई है.

उधर राज्‍यसभा में प्रधानमंत्री ने चर्चा का जबाव देते हुए कहा कि हम सभी को मिलजुलकर सौहार्द बनाएं रखने के लिए काम करना होगा. पीएम ने कहा कि अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई हो. प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सभी पूर्वोत्तर के लोगों के साथ हैं. वहां किसी प्रकार की हिंसा नहीं होने दी जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×