scorecardresearch
 

संसद हमला: देश ने किया शहीदों को याद

भारतीय संसद पर हमले की 10वीं बरसी के अवसर पर मंगलवार को उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी के नेतृत्व में संसद के दोनों सदनों के सदस्यों ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी.

संसद पर हमले की 10वीं बरसी संसद पर हमले की 10वीं बरसी

भारतीय संसद पर हमले की 10वीं बरसी के अवसर पर मंगलवार को उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी के नेतृत्व में संसद के दोनों सदनों के सदस्यों ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता लालकृष्ण आडवाणी, लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज व अन्य सदस्यों ने संसद परिसर में आयोजित श्रद्धांजलि समारोह में हिस्सा लिया.

विभिन्न दलों के नेताओं ने शहीदों की याद में एक मिनट का मौन रखा. रेड क्रॉस सोसायटी ने संसद में एक रक्त दान शिविर का आयोजन किया था.

उल्लेखनीय है कि 13 दिसम्बर, 2001 को हथियारबंद आतंकवादियों ने भारतीय संसद परिसर में हमला कर दिया था. इस गोलीबारी में नौ लोग मारे गए थे. मारे गए लोगों में दिल्ली पुलिस के पांच कर्मचारी, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की एक महिला, संसद के दो गार्ड व एक माली मारे गए थे. सुरक्षाकर्मियों ने हमला करने वाले पांचों आतंकवादियों को भी मार गिराया था.

हमले के एक साल बाद मामले में अफजल गुरु सहित चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हुई. सुनवाई के बाद इन्हें दोषी पाया गया. आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के अफजल गुरु को मौत की सजा सुनाई गई. उसकी दया याचिका राष्ट्रपति के पास विचाराधीन है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें