scorecardresearch
 

सरकार लोकपाल बिल को लेकर संजीदा: प्रतिभा पाटिल

संसद की सर्वोच्चता पर बल देते हुए राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने कहा कि सरकार लोकपाल विधेयक पारित कराने को लेकर संजीदा है.

प्रतिभा पाटिल प्रतिभा पाटिल

संसद की सर्वोच्चता पर बल देते हुए राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने कहा कि सरकार लोकपाल विधेयक पारित कराने को लेकर संजीदा है.

स्विटरजरलैंड और आस्ट्रिया की अपनी चार दिवसीय यात्रा से वापसी के दौरान उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘निश्चित रूप से यह सर्वश्रेष्ठ तरीका है. यह उस तरह ही होना चाहिए. मैं ऐसा महसूस करती हूं.’ वह इस सवाल का जवाब दे रही थीं कि क्या भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई की अगुवाई संसदीय लोकतंत्र द्वारा होनी चाहिए.
चेहरा पहचानें, जीतें ईनाम. भाग लेने के लिए क्लिक करें

 

भ्रष्टाचार से लड़ने में सरकार के प्रयास का समर्थन करते हुए राष्ट्रपति ने कहा, ‘भारत सरकार कई कदम उठा रही है. विधेयक सदन के समक्ष है और सरकार लोकपाल विधेयक को पारित कराने और लागू करने के लिए संजीदा है. इस बारे में कहीं कोई संदेह नहीं है.’ उन्होंने कहा कि कई अन्य कदम उठाये जा रहे हैं जिनमें से एक आरटीआई है. उन्होंने कहा कि दुनिया देख रही है कि इतना बड़ा देश होने के बाद भी भारत आटीआई अधिनियम लागू कर रहा है जो एक महत्वपूर्ण बात है.

पाटिल ने हाल ही में स्विटरजरलैंड के साथ हुए दोहरे कराधान संशोधन प्रोटोकॉल संधि के बारे में बात की. उन्होंने कहा, ‘भारत को इसमें दिलचस्पी है. मैंने स्विटरजरलैंड के साथ यह मुद्दा उठाया. अतएव, भ्रष्टाचार को थामने और उसके खिलाफ संघर्ष के लिए जो कुछ जरूरी है, वे सभी कदम भारत सरकार उठा रही है और यही बात है कि भारत अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी अकादमी का सदस्य बनने पर सक्रियता से विचार कर रहा है.’

विशेष विमान में पत्रकारों को जारी एक बयान में पाटिल ने कहा, ‘स्विटरजरलैंड की राष्ट्रपति मिशेलाइन काल्मी री तथा सरकार के मंत्रियों एवं आस्‍ट्रिया के राष्ट्रपति हींज फिशेचर, चांसलर वेरनेर फेमैन के साथ वार्ता सार्थक और उपयोगी रही.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें