scorecardresearch
 

कांग्रेस वोट बैंक की राजनीति कर रही: मोदी

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कांग्रेस वोट बैंक की राजनीति करती है, जबकि भारतीय जनता पार्टी का मकसद विकास करना है.

नरेन्द्र मोदी नरेन्द्र मोदी

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कांग्रेस वोट बैंक की राजनीति करती है, जबकि भारतीय जनता पार्टी का मकसद विकास करना है.

नरेंद्र मोदी ने रविवार रात नया रायपुर स्थित राज्योत्सव में जनता को संबोधित करते हुये कहा कि आज भारत की राजनीति दो ध्रुवों में बंट गई है. एक ध्रुव वोट बैंक की रजनीति करना चाहता है. कांग्रेस देश में वोट बैंक की राजनीति कर रही है जबकि भारतीय जनता पार्टी का मकसद विकास करना है. उन्होंने कहा कि देश का युवा आज खोखली बातों पर विश्वास नहीं करता है, उसे विकास चाहिये. युवा जैसा विकास चाहते हैं वह गुजरात और छत्तीसगढ़ राज्य में हो रहा है.

मोदी ने केन्द्र सरकार के बारे में कहा कि दुनिया भर में विकास को लेकर सर्वे किया गया था तब विश्व में 148 देशों में भारत का नंबर 138 वें नंबर पर था. जब राज्यों का सर्वे किया तब गुजरात 15 वें नंबर पर था. आज जो विकास गुजरात या छत्तीसगढ़ में हो रहा है वह वहां की जनता के कारण है. आज देश में भारतीय जनता पार्टी के शासन वाले राज्य तरक्की कर रहे हैं उसका सीधा कारण है कि भाजपा विकास की राजनीति करती है वोट बैंक की नहीं.

गुजरात के मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार ने आम लोगों के लिये सोचना बंद कर दिया है. केन्द्र सरकार को मंहगाई के लिये पीड़ा नहीं है. उसे गरीबों की कोई चिंता नहीं है. जनता से गैस सिलेंडर छीन लिये गये. पेट्रोल और डीजल के दाम रोज बढ़ाये जा रहे हैं.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग अपने भाषणों में गरीब आदिवासी की बातें करते हैं और उन्हें सपने दिखाते हैं. देश को आजाद हुये 65 वर्ष बीत गए हैं और देश में सबसे ज्यादा कांग्रेस पार्टी ने राज किया है. लेकिन इन वर्षों में गरीब आदिवासी की चिंता नहीं की गई.

मोदी ने दावे के साथ अर्थशास्त्रियों और राजनीतिक पंडितों का आह्वान किया कि वे विकास के मामले में देश के किसी भी 40 या 50 वर्ष या उससे भी पुराने राज्यों के साथ केवल 12 वर्ष पुराने छत्तीसगढ़ राज्य की तुलता करके देख लें, तो दुनिया का ध्यान निश्चित रूप से छत्तीसगढ़ की ओर जायेगा. उन्होंने कहा कि आज पूरे देश में अगर विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं और विकास कार्यों के लिये गुजरात, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश को उदाहरण के रूप में लिया जाता है, तो उसका एक मात्र कारण यहां की जनता की ताकत और नेतृत्व की दूरदृष्टि है.

समारोह की अध्यक्षता करते हुये मुख्यमंत्री रमन सिंह ने राज्य की जनता की ओर से गुजरात के मुख्यमंत्री का स्वागत और अभिनंदन किया. सिंह ने कहा कि मोदी के नेतृत्व में गुजरात आज पूरे देश के विकास की नई दिशा तय कर रहा है. गुजरात देश में विकास का मॉडल बन गया है.

सिंह ने कहा कि राज्य सरकार छत्तीसगढ़ वर्तमान पीढ़ी की बेहतरी के साथ अपनी भावी पीढ़ी के लिये भी काम कर रही है. छत्तीसगढ़ एक नया इतिहास रच रहा है. राज्य बनने के बाद 16 से 18 और अब 27 जिले बन गये हैं. इस वर्ष राज्योत्सव के अवसर पर राज्य सरकार ने जनता की सुविधा के लिये विकासखंडों के पुनर्गठन के लिये आयोग बनाने का भी निर्णय लिया है.

रमन सिंह ने राज्योत्सव 2012 के अंतर्गत आयोजित दो दिवसीय विश्व निवेशक सम्मेलन का उल्लेख करते हुये कहा कि कृषि तथा खाद्य प्रसंस्करण और सूचना प्रौद्योगिकी जैसे क्षेत्रों में पूजी निवेश आकषिर्त करने और रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिये पहली बार इस प्रकार का अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया.

सम्मेलन में लगभग सवा लाख करोड़ रुपये के 272 उद्योगों के लिये निवेशकों के साथ सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर हुये. इन उद्योगों में लगभग सवा छह लाख युवाओं को रोजगार मिल सकेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने राज्य के स्नातक स्तर के विद्यार्थियों को कम्प्यूटर के जरिये पढ़ाई के लिये नि:शुल्क टेबलेट और मेडिकल तथा इंजीनियरिंग छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप देने का भी निर्णय लिया है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार तेन्दूपत्ते की तरह अब वनवासियों से इमली, महुआ-बीज और कोसा की भी खरीद उचित मूल्य पर करेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें