scorecardresearch
 

भंवरी केस: सर्च ऑपरेशन में मिले अहम सुराग

भंवरी देवी मर्डर केस को सुलझाने के लिए सीबीआई ने जोधपुर के करीब शुरु किया है सर्च ऑपरेशन. सर्च ऑपरेशन के दौरान राजीव गांधी नहर से 2 बैट और पॉलिथीन में बंद दो देसी तमंचे (कट्टा) बरामद किए गए हैं.

भंवरी देवी मर्डर केस भंवरी देवी मर्डर केस

भंवरी देवी मर्डर केस को सुलझाने के लिए सीबीआई ने जोधपुर के करीब शुरु किया है सर्च ऑपरेशन. सर्च ऑपरेशन के दौरान राजीव गांधी नहर से 2 बैट और पॉलिथीन में बंद दो देसी तमंचे (कट्टा) बरामद किए गए हैं.
राजीव गांधी नहर में पानी के भीतर एक-एक कोना तलाश रही है. सबूतों की तलाश के लिए नहर का पानी कम किया गया है और 30 से ज्यादा गोताखोरों को लगाया गया है.

शुक्रवार को सीबीआई की टीम तीन मुख्य अभियुक्तों- ओंमप्रकाश, कैलाश जाखड़ और बिश्ना राम बिश्नोई को लेकर जालोरा पहुंची है और उनकी निशानदेही पर सबूत की तलाश में जुटी है. हम आपको बता दें कि भंवरी मर्डर केस सीबीआई के लिए इस कदर अहम हो गया है कि गुरुवार को सीबीआई के डायरेक्टर और ज्वाइंट डायरेक्ट ने खुद जालोरा गांव में मोर्चा संभाल रखा था.

सीबीआई की टीम भंवरी केस के मुख्य आरोपियों कैलाश जाखड़ और ओम प्रकाश को लेकर मौके पर पहुंची है. दोनों आरोपियों को गाड़ी से उतारकर नहर तक ले जाया गया. दोनों ने सीबीआई को बताया कि आखिर कैसे भंवरी की लाश को ठिकाने लगाया गया था और कैसे सबूतों को मिटाने की कोशिश की गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें