scorecardresearch
 

भंवरी केस: मदेरणा को कोर्ट में पेश करेगी सीबीआई

नर्स भंवरी देवी केस में सीबीआई राजस्थान के मंत्री महिपाल मदेरणा को गिरफ्तार करने के बाद शनिवार को कोर्ट में पेश करेंगे जहां पर वह उन्‍हें रिमांड पर लेने की कोशिश करेगी.

नर्स भंवरी देवी केस में सीबीआई राजस्थान के मंत्री महिपाल मदेरणा को गिरफ्तार करने के बाद शनिवार को कोर्ट में पेश करेंगे जहां पर वह उन्‍हें रिमांड पर लेने की कोशिश करेगी.

सीबीआई ने अपने आरोप-पत्र में कहा है कि भंवरी देवी को अपहरण करने की साजिश राजस्थान के मंत्री महिपाल मदेरणा के इशारे पर सहीराम विश्नोई ने रची. भंवरी की हत्या कर दिये जाने की आशंका है.

सीबीआई ने शुक्रवार शाम मदेरणा को गिरफ्तार किया जो भंवरी देवी के बेहद करीब थे और उनकी मुलाकात 2005 में विधायक मलखान सिंह विश्नोई ने कराई थी. जांच एजेंसी ने दावा किया कि मदेरणा और नर्स की एक सीडी जुलाई में आने के बाद पूर्व मंत्री ने मामले को निपटाने के लिए सहीराम को तैनात किया.

सीबीआई अदालत में दायर 42 पन्‍नों के अपने आरोप-पत्र में एजेंसी ने कहा, ‘सहीराम ने सोहन लाल और शहाबुद्दीन के साथ बैठक की और 50 लाख रुपये देकर भंवरी से सीडी वापस लेने की योजना बनाई. इस पूरी योजना में शहाबुद्दीन को भंवरी के सामने मुंबई में रहने वाले मदेरणा के एक अमीर दोस्त राजू भाई के तौर पर पेश किया गया.’

सीबीआई के मुताबिक, भंवरी को कहा गया कि सीडी के लिए वह रुपये देंगे क्योंकि भंवरी को सोहन और सहीराम पर भरोसा नहीं था. सीबीआई ने अपने आरोप-पत्र में बताया कि सोहन लाल ने भंवरी को एक सितंबर को राशि लेने और उसके द्वारा बेची गई कार की राशि को लेने के लिए बिलारा बुलाया. आरोप-पत्र के मुताबिक, उन्होंने भंवरी के साथ एक कार में बिलारा के आसपास का सफर किया जिसका महिला ने विरोध किया. जिसके बाद सोहन और शहाबुद्दीन ने बलिया की सहायता से कार में सका गला घोंट डाला.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें