scorecardresearch
 

भंवरी देवी हत्याकांड: मदेरणा, मल्खान पर हत्या का आरोप तय

भंवरी देवी हत्याकांड मामले में एक अदालत ने गुरुवार को राजस्थान के पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा और विधायक मल्खान सिंह बिश्नोई के खिलाफ अपहरण और हत्या सहित अन्य आरोप तय किये. अदालत के इस कदम से मुकदमे की सुनवाई का मार्ग प्रशस्त हो गया है.

भंवरी देवी हत्याकांड मामले में एक अदालत ने गुरुवार को राजस्थान के पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा और विधायक मल्खान सिंह बिश्नोई के खिलाफ अपहरण और हत्या सहित अन्य आरोप तय किये. अदालत के इस कदम से मुकदमे की सुनवाई का मार्ग प्रशस्त हो गया है.

अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (एसएसी/एसटी मामले) अदालत ने 16 आरोपियों के खिलाफ आरोप तय किए. इनमें 13 के खिलाफ अपहरण और हत्या सहित वह सभी दफा लागू हैं जिनका जिक्र सीबीआई के आरोप पत्र में था. हालांकि, मजिस्ट्रेट गिरीश कुमार शर्मा ने पारस राम बिश्नोई और ओम प्रकाश बिश्नोई के खिलाफ हत्या और आपराधिक साजिश रचने का आरोप हटा दिया और उनकी जमानत मंजूरी कर ली.

पारस मल्खान के भाई हैं.भंवरी देवी के पति अमरचंद के खिलाफ भी हत्या के आरोप हटा दिए गए. उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 120 बी (आपराधिक साजिश रचने) और 364 (हत्या के लिए अपहरण) के तहत मुकदमा चलेगा.

सीबीआई की ओर से विशेष वरिष्ठ अधिवक्ता अशोक जोशी ने कहा कि अदालत अब 15 अक्तूबर को मदेरणा और मल्खान के खिलाफ आरोपों पर विचार करेगी. ये दोनों व्यक्ति बृहस्पतिवार को अदालत में पेश नहीं सके. गौरतलब है कि तत्कालीन मंत्री मदेरणा और कांग्रेस विधायक मल्खान के कथित इशारे पर भंवरी की एक सितंबर 2011 को हत्या कर दी गई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें