scorecardresearch
 

चीन से लगी सीमा पर तैनाती के लिए 1 लाख भर्तियां

भारतीय सेना सबसे बड़ा भर्ती मिशन शुरू करने जा रही है. चीन से मुकाबले के लिए सेना में एक लाख से ज्यादा सैनिकों की भर्ती होगी. इसके लिए 64 हजार करोड़ रुपये का बजट रखा गया है.

सीमा पर तैनात होंगे सैनिक सीमा पर तैनात होंगे सैनिक

भारतीय सेना सबसे बड़ा भर्ती मिशन शुरू करने जा रही है. चीन से मुकाबले के लिए सेना में एक लाख से ज्यादा सैनिकों की भर्ती होगी. इसके लिए 64 हजार करोड़ रुपये का बजट रखा गया है.

भारत-चीन सीमा पर चार नए डिविजन बनाए जाएंगे, जिसमें दो माउंटेशन स्ट्राइक कॉर्प होंगे, जो कि दुश्मन के गढ़ में घुसकर मुकाबला कर सकते है. भारत-चीन सीमा के लिए अलग से दो ब्रिगेड भी होंगी. चीन सीमा पर 1962 के बाद ये सबसे बडी तैनाती होगी.

रक्षा मंत्रालय ने पूरा प्लान फाइनल मंजूरी के लिए वित्त मंत्रालय को भेज दिया है. अब इसे सीसीएस के सामने रखा जाएगा. सेना में भर्ती के अलावा अत्याधुनिक हथियार, आर्मी का फायर पावर वगैरह भी बढाया जाएगा.

इसके अलावा भारत-चीन सीमा के सभी हवाई पट्टियों को दुरस्त कर तैयार किया जाएगा, ताकि जरूरत पड़ने पर इसका तत्काल इस्तेमाल हो सके.

तेजुपुर में पहले से ही सुखोई की तैनाती हो चुकी है. बार्डर आउटपोस्ट पर भी तैनाती बढाई जाएगी. ब्रह्मोस मिसाइल को भी चीन की सीमा पर तैनाती का फैसला किया गया है. यदि चीन की बात करें, तो वह पहले ही भारतीय सीमा पर छोटे मिसाइल तैनात कर चुका है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें