scorecardresearch
 

गुस्‍साए मजदूरों ने डीजीएम को जिंदा जलाया

उड़ीसा के बोलांगीर में स्टील फैक्ट्री के डीजीएम को जिंदा जलाए जाने के मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया गया है.

उड़ीसा के बोलांगीर में स्टील फैक्ट्री के डीजीएम को जिंदा जलाए जाने के मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया गया है.

बोलांगीर के एसपी अजय सदानगी के मुताबिक चारों लोगों से पूछताछ की जा रही है और उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है. मामले के बाकी आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने 3 स्कवॉड बनाए हैं. गुरुवार को 11 मजदूरों की बर्खास्तगी के खिलाफ धरने पर बैठे मजदूरों ने फैक्ट्री के डीजीएम राधेश्याम राय को गाड़ी समेत जला दिया था.

पाउमैक्स स्टील्स डिवीज़न उड़ीसा के बलांगीर ज़िले के टीटलागढ़ में इस्पात का वो कारखाना है जहां पिछले 20 साल से तनख्वाह को लेकर प्रबंधन से मज़दूरों की लड़ाई चल रही है. 18 महीने पहले 35 मज़दूरों को निलंबित कर दिया गया. बुधवार शाम को मज़दूर धरने पर बैठ गए. गुरुवार को जब डीजीएम फैक्टरी से निकले तो मज़दूरों ने उनकी गाड़ी घेर ली. ड्राइवर तो भाग निकला लेकिन बेरहम मज़दूरों ने डीजीएम को गाड़ी समेत जला दिया.

दरअसल, फैक्टरी मैनेजमेंट और मज़दूर यूनियन की बैठक में बात नहीं बनी, उल्टा निलंबित मज़दूरों में से 11 को बर्ख़ास्त कर दिया गया. इसका अंजाम उस अधिकारी को भुगतना पड़ा, जिसका मज़दूरों के मामले से कोई लेना-देना तक नहीं था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें