scorecardresearch
 

नोएडा एक्‍सटेंशन के निवेशकों ने निकाली रैली

नोएडा में भूमि अधिग्रहण रद्द होने से प्रभावित फ्लैट खरीदारों ने अपनी चिंता व्यक्त करते हुये शनिवार को यहां शांतिपूर्ण जुलूस निकाला.

नोएडा में भूमि अधिग्रहण रद्द होने से प्रभावित फ्लैट खरीदारों ने अपनी चिंता व्यक्त करते हुये शनिवार को यहां शांतिपूर्ण जुलूस निकाला.

नवगठित ‘नोएडा एक्सटेंशन फ्लैट खरीदार कल्याण संघ (एनईएफबीडब्ल्यूए) के नेतृत्व में सैकड़ों फ्लैट खरीदारों ने एसोसिएशन के अध्यक्ष आर.पी. त्यागी के नेतृत्व में जुलूस निकाला. यह जुलूस सेक्टर 14 (ए) स्थित गौतमबुद्ध प्रतिमा के पास से निकला और सेक्टर 18 तक गया.

त्यागी ने कहा कि हम अपना फ्लैट पूर्व में निर्धारित मूल्य पर चाहते हैं. हम अपना पैसा वापस नहीं चाहते. उन्होंने कहा कि हमने अदालत में भी याचिका दायर की है और अनुरोध किया है कि हमें भी मामले में पक्ष बनाया जाए. हमने अनुरोध किया है कि नोएडा एक्सटेंशन मामले पर फैसले से पहले निवेशकों की बातें भी सुनी जानी चाहिए.

वीडियो: नोएडा एक्‍सटेंशन अधिग्रहण विवाद में फंसे ग्राहक

इस सप्ताह की शुरूआत में एनईएफबीडब्ल्यूए ने इलाहबाद उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर कहा है कि जमीन अधिग्रहण मुद्दे पर फैसले से पहले उनकी बातों को सुना जाए.

त्यागी ने कहा कि हम किसानों के खिलाफ नहीं हैं, किसानों को पर्याप्त मुआवजा मिलना चाहिए, यह ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण (ग्रेनो) की गलती है और उसे इसका हल निकलना है.

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो देखें

उच्चतम न्यायालय ने छह जुलाई को ग्रेनो के शाहबेरी गांव में 156 हैक्टेयर जमीन के अधिग्रहण को रद्द कर दिया था. इसके बाद इलाहबाद उच्च न्यायालय ने गौतम बुद्ध नगर जिले के पटवारी तथा देवला गांव की 589.13 हैक्टेयर जमीन के अधिग्रहण को रद्द करने का फैसला सुनाया.

नोएडा एक्सटेंशन इलाका 4,000 एकड़ से अधिक क्षेत्र में फैला है. एक अनुमान के मुताबिक 2.5 लाख मकान वहां बन रहे हैं. इसमें से करीब एक लाख घर पहले ही बेची जा चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें