scorecardresearch
 

पीओके में चीनी सेना की बड़ी जमावट: थलसेनाध्यक्ष

थलसेनाध्यक्ष जनरल वी के सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चीन की सेना पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिकों सहित करीब चार हजार चीनी लोग मौजूद हैं.

जनरल वी के सिंह जनरल वी के सिंह

थलसेनाध्यक्ष जनरल वी के सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चीन की सेना पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिकों सहित करीब चार हजार चीनी लोग मौजूद हैं.

चेहरा पहचानें, जीतें ईनाम. भाग लेने के लिए क्लिक करें

 

सिंह ने बताया कि वहां निर्माण कार्य कर रहे कुछ दल हैं. बड़ी मात्रा में लोग मौजूद हैं. करीब तीन से चार हजार लोग मौजूद हैं, जिनमें कुछ लोग सुरक्षा उद्देश्यों के लिये हैं. कुछ इंजीनियर सैनिक भी हैं, जैसे हमारे पास सेना में इंजीनियर हैं. एक तरह से वे पीएलए का हिस्सा हैं.

थलसेनाध्यक्ष पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चीनी सैनिकों की मौजूदगी के बारे में पूछे गये सवाल का जवाब दे रहे थे. उनसे 16वें फील्ड मार्शल के एम करियप्पा स्मृति व्याख्यान के इतर यह सवाल पूछा गया था. इस व्याख्यान में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिवशंकर मेनन ने संबोधित किया.

यह वक्तव्य पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चीनी सैनिकों की मौजूदगी और उनकी गतिविधियों के बारे में भारत में जतायी जा रही चिंताओं की पृष्ठभूमि में आया है. वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल एन ए के ब्राउन एक साक्षात्कार के दौरान यह स्पष्ट कर चुके हैं कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चीन की मौजूदगी बढ़ने से भारत का ध्यान उस ओर आकषिर्त हुआ है.

भारत पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चीन के सैनिकों की मौजूदगी और उनकी गतिविधियों के बारे में अपनी चिंताओं से पहले ही चीन को अवगत करा चुका है. पिछले वर्ष ये खबरें आयी थीं कि जम्मू-कश्मीर के पाकिस्तान द्वारा अधिकृत गिलगिट-बाल्टीस्तान क्षेत्र में करीब 11,000 चीनी सैनिक मौजूद हैं. हालांकि, चीन ने कहा था कि वह कोई गलत काम नहीं कर रहा है.

हाल ही में थलेसना के एक वरिष्ठ कमांडर ने कहा था कि चीनी लोग मुख्य तौर पर पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर तथा उत्तरी क्षेत्रों में राजमार्गों और बांधों के निर्माण में लगे हैं. ये इलाके नियंत्रण रेखा के काफी निकट हैं. जम्मू-कश्मीर की सुरक्षा स्थिति के बारे में पूछे जाने पर जनरल सिंह ने कहा कि नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादी ढांचा अब भी मौजूद है और बड़ी संख्या में आतंकवादी घुसपैठ करने की कोशिश में हैं.

थलसेनाध्यक्ष ने कहा, ‘नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादी ढांचा अब भी वैसा ही बना हुआ है. सीमा पार बड़ी संख्या में आतंकवादियों का जमावड़ा है और वे घुसपैठ की कोशिश कर रहे हैं. हम सुनिश्चित करा रहे हैं कि उनकी कोशिशें विफल हो जायें.’ जनरल सिंह ने कहा कि नियंत्रण रेखा के पार से घुसपैठ बढ़ाने की कोशिशें की जा रही हैं. लेकिन हमारी सेना चौकस है और किसी भी खतरे का सामना करने के लिये तैयार है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें