scorecardresearch
 

Punjab: पहले साए की तरह थे चन्नी के साथ, अब Sidhu के इस्तीफे की क्या है वजह?

Punjab: पहले साए की तरह थे चन्नी के साथ, अब Sidhu के इस्तीफे की क्या है वजह?

पंजाब में कांग्रेस का हांफ कांप रही है, इस्तीफों का दौर जारी है. दिल्ली में बैठे बड़े नेता समझ नहीं पा रहे कि पंजाब को कैसे कंट्रोल करें. पहले सिद्धू ने इस्तीफा दिया, फिर उनके समर्थक मंत्रियों ने और इधर कैप्टन दिल्ली दौड़ से नए समीकरणों का गुणा भाग देख रहे हैं. सीएम चन्नी नए नवेले हैं और इस तूफान में उनकी नाव खुद डगमगा रही है. चंद दिन पहले ही जब चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के सीएम बने तो सिद्धू साए की तरह उनके साथ नजर आ रहे थे. माना जा रहा था कि चन्नी के चहेरे को आगे कर सिद्धू कांग्रेस को दोबारा सत्ता दिलाने का प्लान तैयार कर रहे हैं. लेकिन चंद दिनों के भीतर ही सिद्धू ने ऐसा कदम उठाया कि पंजाब की सियासत फिर चकरघिन्नी की तरह घूमने लग गई. सिद्धू ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर अचानक पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष पद छोड़ दिया. इस झटके से पार्टी अभी उबर ही नहीं पाई थी कि रजिया सुल्तान ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. देखें ये वीडियो.

After staying Punjab Congress president for two months and one week, Navjot Singh Sidhu resigned from the post on Tuesday. This came as a surprise, particularly on a day when his arch-rival and former Punjab Chief Minister Captain Amarinder Singh was speculated to join the Bharatiya Janata Party (BJP) after having been cornered in the Congress party. However, Congress insiders point to certain developments that led to Navjot Sidhu’s resignation. It was the culmination of a political build-up in the Punjab Congress. When Charanjit Singh Channi became the CM of Punjab a few days ago, Sidhu was seen with him like a shadow. It was believed that by putting forward Channi's face, Sidhu was preparing a plan to bring back power to the Congress. But within a few days, Sidhu took such a step that the politics of Punjab again started surging. Watch this video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें