scorecardresearch
 

AAP बन गई है जासूसों की पार्टी, मनीष सिसोदिया ने की मेरी रिकॉर्डिंग: सुच्चा सिंह

 सुच्चा सिंह द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद आम आदमी पार्टी ने उन्हें संयोजक के पद से हटा दिसा है. छोटेपुर ने अपने स्टिंग को सार्वजनिक करने का चैलेंज करते हुए आम आदमी पार्टी के नेताओं पर आरोपों की झड़ी लगा दी.

X
सुच्चा सिंह छोटेपुर सुच्चा सिंह छोटेपुर

आम आदमी पार्टी का पंजाब में चल रहा कोहराम शुक्रवार को खुलकर सामने आ गया. स्टिंग में पैसे लेकर टिकट देने का वादा करने का आरोप लगने के बाद पंजाब के पार्टी संयोजक सुच्चा सिंह छोटेपुर ने चंडीगढ़ में प्रेस कांफ्रेंस करके अपनी ही पार्टी के दिल्ली में बैठे सीनियर नेताओं पर गंभीर आरोप लगा दिए. सुच्चा सिंह द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद आम आदमी पार्टी ने उन्हें संयोजक के पद से हटा दिसा है. छोटेपुर ने अपने स्टिंग को सार्वजनिक करने का चैलेंज करते हुए आम आदमी पार्टी के नेताओं पर आरोपों की झड़ी लगा दी.

सुच्चा सिंह के आरोप
1- पंजाब विधानसभा चुनावों के लिये दो-दो करोड़ रुपये में टिकटें बेची गई.
2- पार्टी का पंजाब में कोई ट्रेजरर या बैंक खाता नहीं है, इसी वजह से चंदे की रकम का पैसा कैश लेना पड़ता है.
3- पार्टी की और से अपने वॉलेटियर्स को चंदा लेने के बाद कोई रसीद नहीं दी जाती, अब तक मैं भी 20 लाख रुपये बतौर चंदा इकट्ठा करके आलाकमान को दे चुका हूं.
4- मैंने 10-12 दिन केजरीवाल से मुलाकात का समय मांगा, लेकिन फिर ये सब खबरें आई तो मैंने प्रेस कांफ्रेंस की. केजरीवाल मुझसे मिलने को तैयार नहीं है.
5- मनीष सिसोदिया कोई डिप्टी सीएम नहीं बल्कि जासूस है जो अपने साथियों का ही वीडियो बनवाता है.
6- टिकट बांटते समय सभी वॉलंटियर्स को इग्नोर किया, जिन लोगों ने पार्टी के लिए काम किया उन्हें खारिज कर दिया, इन्हें वो लोग चाहिए थे जो इनकी हां में हां मिलाएं.
7- केजरीवाल ने मुझे यूथ मेनिफेस्टो विवाद की जिम्मेदारी अपने सिर पर लेने को कहा और जब मैंने कहा कि मैं सिख हूं ऐसा नहीं कर सकता तो उन्होंने मुझे पार्टी से बाहर निकालने की तैयारी उसी दिन से शुरु कर दी.

छोटेपुर ने अपनी ही पार्टी के दिल्ली से पंजाब चुनाव के लिये मैनेजमेंट के लिये आये दुर्गेश पाठक को भी अपनी मनमानी करने और पंजाब के नेताओं की बात ना सुनने के आरोप लगा दिए. इसके अलावा टिकटों को बांटे जाने के दौरान भी दिल्ली में बैठे नेताओं की मनमानी का आरोप लगाया.

वहीं पंजाब विधानसभा चुनाव से ठीक पहले आम आदमी पार्टी में मची उथल-पुथल ने तो जैसे सत्ता पर काबिज अकाली दल और बीजेपी सरकार को बैठे-बिठाये मुद्दा दे दिया है. पंजाब के डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल ने आम आदमी पार्टी को फिर से एक बार पंजाब विरोधी बताते हुए कहा कि यदि छोटेपुर आप नेताओं के ख़िलाफ़ करप्शन की जांच के लिये उन्हें लिखित रूप से कहेंगे तो वे जांच करवायेंगे.

'सुच्चा रिजेक्टड माल हैं'
उन्होंने छोटेपुर को अकाली दल में शामिल न करने के बारे में कहा कि वे अब रिजेक्टड माल हैं कांग्रेस उन्हें पार्टी में शामिल कर ले लेकिन अकाली दल में रिजेक्टड लोगों के लिये जगह नहीं है उन्होंने कहा कि संजय सिंह सहित सभी आप नेता सोलिड वेस्ट की तरह हैं जिनकी कोई वेल्यू नहीं है. आप के सारे नेता पंजाब में पैसा इकट्ठा करने में लगे हुये हैं. वहीं पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरेन्द्र ने भी लगे हाथ छोटेपुर के साथ सिदधू और परगट सिंह को कांग्रेस में शामिल होने का न्यौता दे दिया. आम आदमी पार्टी की सियासी उठापठक ने विधानसभा चुनाव से ठीक पहले पंजाब की राजनीति में भूचाल लाकर रख दिया है और आने वाले कई दिनों तक ये उथल-पुथल थमने वाली नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें