scorecardresearch
 

कोरोनाः पंजाब ने की दिल्ली को मदद की पेशकश, CM अमरिंदर ने दूसरी लहर के लिए किया सतर्क

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि दिल्ली एक कठिन लड़ाई लड़ रही है. यदि जरूरत पड़ी तो मदद के लिए हम तैयार हैं. उन्होंने प्रशासन को प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए और कहा कि सरकार हर जरूरी कदम उठाएगी.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटोः पीटीआई) पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटोः पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 107 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का लोकार्पण
  • 'कोरोना से जंग में सक्रिय भागीदारी निभाएं'
  • सीएम ने 'मास्क ही वैक्सीन' का दिया मंत्र 

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस की महामारी फिर से फुल स्पीड है. ऐसे समय में जब देश में सामने आ रहे नए मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है, दिल्ली में हर दिन नए मामले नया रिकॉर्ड बना रहे हैं. आपदा के इस समय में पंजाब सरकार ने दिल्ली सरकार को मदद की पेशकश की है. पंजाब के मुख्यमंत्री ने प्रशासनिक अधिकारियों से राज्य में कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के लिए तैयार रहने को भी कहा है.

मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इस बात की जानकारी दी गई है. सीएम अमरिंदर 107 नए हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का लोकार्पण करने के बाद बोल रहे थे. मुख्यमंत्री कैप्टन ने कहा कि दिल्ली एक कठिन लड़ाई लड़ रही है. यदि जरूरत पड़ी तो मदद के लिए हम तैयार हैं. उन्होंने प्रशासन को प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए और कहा कि सरकार हर जरूरी कदम उठाएगी. स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी.

देखें: आजतक LIVE TV

कैप्टन ने पंजाब में कोरोना को सही तरीके से नियंत्रित करने के लिए अधिकारियों की तारीफ की और लोगों से इस लड़ाई में सक्रिय भागीदारी निभाने की अपील की. सीएम अमरिंदर ने कोरोना से जीत का मंत्र बताते हुए कहा कि जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती, तब तक मास्क ही वैक्सीन है. सीएम ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्यकर्मियों और अन्य फ्रंटलाइन वर्कर्स को सपोर्ट करना राज्य सरकार का कर्तव्य है. कई स्वास्थ्यकर्मी खुद संक्रमित हो गए, कुछ की जान भी चली गई.

सीएम ने सतर्क करते हुए कहा कि किसी को नहीं पता कि पंजाब में दूसरी लहर कब आएगी. उन्होंने विश्वास जताया कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी किसी भी चुनौती से निपट लेंगे. इससे पहले सीएम ने स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाने के लिए 107 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर (तंदरुस्त पंजाब सेहत केंद्र) का लोकार्पण किया. इससे ग्रामीण और शहरी इलाकों में मरीजों को उनके घर पर ही चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराई जा सकेगी. मुख्यमंत्री ने हेल्थ एंड मेडिकल एजुकेशन विभाग के प्रयासों की भी तारीफ की.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें