scorecardresearch
 

मोहाली ब्लास्ट के मास्टरमाइंड लखबीर सिंह ने पुलिस को दी थी धमकी, 4 के बदले हम 40 मारेंगे!

पंजाब के डीजीपी ने आज मोहाली ब्लास्ट केस का खुलासा किया. उन्होंने बताया कि हमले का मास्टरमाइंड पंजाब के तरनतारन का रहने वाला लखबीर सिंह लांडा है. 

X
लखबीर सिंह लांडा (फेसबुक फोटो) लखबीर सिंह लांडा (फेसबुक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • A+ कैटेगरी का गैंगस्टर है लखबीर सिंह लांडा
  • 2017 में फरार हुआ था लखबीर 

पंजाब के मोहाली में हुए ब्लास्ट में लखबीर सिंह लांडा का नाम सामने आया है. पंजाब के डीजीपी ने लखबीर सिंह को इस पूरी घटना का मास्टरमाइंड बताया है. साथ ही उन्होंने बताया कि वो इस समय कनाडा में मौजूद है. आइए लखबीर सिंह लांडा के बारे में जानते हैं.
पंजाब के डीजीपी ने आज मोहाली ब्लास्ट केस का खुलासा किया. इस दौरान उन्होंने बताया कि ब्लास्ट के पीछे पाकिस्तान की आईएसआई का हाथ है. साथ ही डीजीपी ने बताया कि हमले का मास्टरमाइंड पंजाब के तरनतारन का रहने वाला लखबीर सिंह लांडा है. 


A+ कैटेगरी का गैंगस्टर है लखबीर 

लखबीर सिंह लांडा भी A+ कैटेगरी का गैंगस्टर है. लखबीर सिंह को हरविंदर सिंह रिंदा का करीबी बताया जाता है. रिंदा भी तरनतारन का ही रहने वाला है. इस समय लखबीर कनाडा में रह रहा है. 

फाइल फोटो

फेसबुक पर दी थी पुलिस को धमकी 

लखबीर सिंह लांडा ने भारत से फरार होने के बाद 28 अक्टूबर 2021 को फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर पुलिस को धमकी दी थी.  लखबीर ने लिखा था कि मेरे परिवार को परेशान किया जा रहा है. हम किसी को फालतू परेशान नहीं करते, लेकिन अगर पुलिस ऐसा करती है तो ये मत सोचिए कि आपका परिवार सुरक्षित है. आपके बच्चे देश में हों या विदेश में, हम पता कर लेंगे. तुम अगर 4 मारोगे तो हम बदले  में 40 मारेंगे. इसकी जिम्मेदारी पुलिस की होगी. 

फाइल फोटो

2017 में फरार हुआ था लखबीर 

साल 2017 में लखबीर पंजाब से फरार होकर कनाडा पहुंचा था. मोहाली ब्लास्ट के खुलासे और उसमें गैंगस्टर लखबीर का नाम आने से एक बार फिर साफ हो गया कि ISI की K2 डेस्क पंजाब के गैंगस्टर और उनके नेटवर्क के जरिए कैसे पंजाब में आतंकी वारदातों को अंजाम दिलवा रही है.

6 मई की शाम हुआ था ब्लास्ट

मोहाली में छह मई की शाम को पुलिस इंटेलिजेंस हेडक्वार्टर की बिल्डिंग में ब्लास्ट हुआ था. इस धमाके के बाद पंजाब पुलिस हाई अलर्ट पर है. जिस बिल्डिंग में धमाका हुआ उसके आसपास पुलिस की भारी तैनाती कर दी गई. इंटेलिजेंस ब्यूरो की तरफ जाने वाले सभी रास्तों को सील कर दिया गया. पंजाब पुलिस ने इसकी आतंकी घटना के तौर पर पुष्टि नहीं की थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें