scorecardresearch
 

सिद्धू के तीखे तेवर, कृषि कानून के विरोध में घर पर फहराया काला झंडा, बोले- लड़ाई जारी रहेगी

कृषि कानूनों के खिलाफ कई महीनों से जारी किसानों के आंदोलन के समर्थन में मंगलवार को कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने घर पर काला झंडा फहराया. नवजोत सिद्धू ने ट्विटर पर एक वीडियो साझा किया, जिसमें वह अपनी पत्नी के साथ छत पर झंडा लहरा रहे हैं. 

X
नवजोत सिंह सिद्धू ने पत्नी संग घर पर फहराया काला झंडा नवजोत सिंह सिद्धू ने पत्नी संग घर पर फहराया काला झंडा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विधानसभा चुनावों से पहले एक्शन में नवजोत सिद्धू
  • कृषि कानूनों के विरोध में फहराया काला झंडा

पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले राज्य की राजनीति गरमाने लगी है. कृषि कानूनों के खिलाफ कई महीनों से जारी किसानों के आंदोलन के समर्थन में मंगलवार को कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने घर पर काला झंडा फहराया. नवजोत सिद्धू ने ट्विटर पर एक वीडियो साझा किया, जिसमें वह अपनी पत्नी के साथ छत पर झंडा लहरा रहे हैं. 

कांग्रेस नेता नवजोत सिद्धू ने वीडियो में कहा कि पिछले 20-25 साल से घट रही आमदनी, बढ़ रहे कर्ज के कारण किसान परेशान है और पंजाब के किसानों को आंदोलन करना पड़ रहा है. पंजाब आज एक साथ तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ लड़ रहा है, ये तीनों कानून किसान, मजदूर और व्यापारी के पेट पर लात मारने वाले हैं. 
 

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि अगर इन तीनों कानूनों को वापस नहीं लिया गया, तो पंजाब फिर खड़ा नहीं हो पाएगा. सिद्धू ने कहा कि मेरे घर पर अब काला झंडा लग गया है, ये नए कानूनों के खिलाफ है. जबतक तीनों कानून वापस नहीं होंगे, तबतक ये काला झंडा उतरेगा नहीं. 

गौरतलब है कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर सुर्खियों में हैं. बीते कुछ दिनों से कांग्रेस में ही उनके बागी तेवर फिर देख रहे हैं, जहां मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू आमने-सामने हैं. 

नवजोत सिंह सिद्धू ने बीते कुछ दिनों में ऐसे बयान दिए हैं, जो पंजाब सरकार के लिए गले की फांस बन गए हैं. यही कारण है कि हाल ही में पंजाब सरकार के कई मंत्रियों ने पार्टी स्तर पर नवजोत सिंह सिद्धू पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की मांग की थी. नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बयान में कहा था कि पार्टी के नेता भी ये मानते हैं कि राज्य की नौकरशाही अभी भी बादल परिवार ही चला रहा है, जिसपर काफी बवाल हुआ था. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें