scorecardresearch
 

पंजाब के मंत्रियों ने इस्तीफा दे चुके सिद्धू को बताया ड्रामेबाज, सुनाई खरी-खरी

नवजोत सिंह सिद्धू के मंत्री पद से इस्तीफे का पंजाब के कैबिनेट मंत्री ब्रहम मोहिंद्रा और चरणजीत चन्नी ने मजाक उड़ाया है. उन्होंने सिद्धू के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. दोनों मंत्रियों ने सिद्धू से अपनी गतिविधियों में गरिमा और शिष्टाचार दिखाने को कहा है.

नवजोत सिंह सिद्धू नवजोत सिंह सिद्धू

नवजोत सिंह सिद्धू के मंत्री पद से इस्तीफे का पंजाब के कैबिनेट मंत्री ब्रहम मोहिंद्रा और चरणजीत चन्नी ने मजाक उड़ाया है. उन्होंने सिद्धू के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. दोनों मंत्रियों ने सिद्धू से अपनी गतिविधियों में गरिमा और शिष्टाचार दिखाने को कहा है.

ब्रहम मोहिंद्रा अमरिंदर सिंह कैबिनेट में स्थानीय निकाय मंत्री और चरणजीत चन्नी तकनीकी शिक्षा मंत्री हैं. नवजोत सिंह सिद्धू ने पिछले महीने अपना इस्तीफा पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भेजा था और कहा कि वह पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी इस्तीफा भेज देंगे. सिद्धू ने ट्वीट के जरिए रविवार को यह जानकारी दी.

इन मंत्रियों ने कहा, यह 'ड्रामा किंग' के नाटक के अलावा कुछ नहीं है. अगर उन्हें इस्तीफा ही देना था तो प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सीधे मुख्यमंत्री को भेजते. उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि क्या सिद्धू इतने बेवकूफ हैं कि वह इतना भी नहीं जानते कि कैबिनेट मंत्री का पद पार्टी पद नहीं होता. उनका इस्तीफा राहुल गांधी मंजूर नहीं कर सकते.

सिद्धू के राहुल गांधी को इस्तीफे भेजे जाने वाले ट्वीट पर उन्होंने कहा, सिद्धू ने इस्तीफा सार्वजनिक करने के लिए 34 दिनों का वक्त क्यों लिया. ट्विटर कब अपॉइंटमेंट और इस्तीफे की जगह बन गई. इन मंत्रियों ने कहा, सिद्धू ने मुख्यमंत्री द्वारा उन्हें आवंटित नए पोर्टफोलियो को स्वीकार न करते हुए लगभग 40 दिनों तक बिजली विभाग का काम अधर में लटकाए रखा. उन्होंने इस बात का भी संज्ञान नहीं लिया कि धान की बुवाई के लिए बिजली बेहद जरूरी थी. उन्होंने आगे कहा, यह साफ है कि सिद्धू को अपने कारनामों की कोई परवाह नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें