scorecardresearch
 

'10 हज़ार और पदों को ख़त्म करने जा रहा रेलवे, टूट रहीं युवाओं की उम्मीदें', वरुण गांधी का फिर हमला

Indian Railway: पिछले 6 सालों में रेलवे ने 72,000 से अधिक पदों को खत्म कर दिया है. इसे लेकर बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने खुद की सरकार पर निशाना साधा है. वरुण गांधी ने ट्वीट कर सरकार पर सवाल उठाए हैं.

X
Varun Gandhi Varun Gandhi
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रेलवे ने 6 साल में 72,000 से अधिक पद किए खत्म
  • वरुण गांधी ने साधा बीजेपी पर निशाना

Indian Railway: सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी के अपनी सरकार पर हमले थमने का नाम नहीं ले रहे. वरुण गांधी एक के बाद एक खुद की सरकार पर निशाना साधते जा रहे हैं. अब वरुण गांधी ने ट्विटर के जरिए एनसीआर जोन में रेलवे विभाग द्वारा 10000 पदों  को खत्म करने की बात कही है. 

क्या है वरुण गांधी का ट्वीट?
वरुण गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा कि विगत 6 वर्षों में तृतीय-चतुर्थ श्रेणी में 72,000 पद समाप्त कर चुका रेलवे अब एनसीआर जोन में 10,000 पदों को भी समाप्त करने जा रहा है. समाप्त होती हर नौकरी रेलवे की तैयारी कर रहे करोड़ों युवाओं की उम्मीदें तोड़ रही है. यह ‘वित्तीय प्रबंध’न है या ‘निजीकरण’ की तरफ बढ़ाया जा रहा कदम है?

रेलवे ने 6 साल में खत्म किए 72,000 से अधिक पद
भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने बीते 6 साल में 72,000 से अधिक पदों को खत्म कर दिया है. उपलब्ध दस्तावेजों के अनुसार, खत्म किए गए सभी पद ग्रुप सी (Group C) और ग्रुप डी (Group D) श्रेणी के हैं, जो रेलवे के संचालन में नई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल बढ़ने के कारण अब गैर जरूरी हो गए हैं. 

वरुण गांधी ने पहले भी सरकार पर साधा है निशाना
ऐसा नहीं है कि वरुण गांधी ने पहली बार सरकार पर निशाना साधा हो. वरुण गांधी पिछले कुछ समय से लगातार सरकार के ऊपर सवाल उठा रहे हैं. कुछ दिन पहले वरुण गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा- चुनाव से पहले पात्र और चुनाव के बाद अपात्र? उन्होंने कहा कि जनसामान्य के जीवन को प्रभावित करने वाले सभी मानक अगर चुनाव देखकर तय किए जाएंगे तो सरकारें अपनी विश्वसनीयता खो बैठेंगी. वरुण गांधी ने अपने ट्वीट में आगे लिखा कि चुनाव खत्म होते ही अपना राशन कार्ड खोने वाले करोड़ों देशवासियों की याद सरकार को अब कब आएगी? शायद अगले चुनाव में.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें