scorecardresearch
 

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आज शाम देश को करेंगी संबोधित

भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 76वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आज शाम देश को संबोधित करेंगी. उनका ये संबोधन हिंदी और अंग्रेजी के साथ देश की सभी क्षेत्रीय भाषाओं में सुना जा सकेगा. हाल में देश के राष्ट्रपति का पद संभालने वाली द्रौपदी मुर्मू पहली बार स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आज राष्ट्र को संबोधित करेंगी.

X
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (File Photo : PTI) राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (File Photo : PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दूरदर्शन के सभी चैनलों पर होगा प्रसारण
  • क्षेत्रीय भाषाओं में सुन सकेंगे ये संबोधन

भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज शाम राष्ट्र को संबोधित करेंगी. देश के 76वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर द्रौपदी मुर्मू का संबोधन शाम 7 बजे प्रसारित होगा. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्रपति का इस संबोधन की पुरानी परिपाटी रही है. अपने इस संबोधन में राष्ट्रपति देश की उपलब्धियों और आने वाले कल की रूपरेखा पर प्रकाश डालते हैं. 15 अगस्त के मुख्य समारोह में देश के प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हैं.

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का ये संबोधन शाम 7 बजे दूरदर्शन के सभी चैनलों पर प्रसारित किया जाएगा. पहले ये संबोधन हिंदी भाषा में होगा, उसके बाद अंग्रेजी भाषा में भी लोग इस संबोधन को सुन सकेंगे. इतना ही नहीं ऑल इंडिया रेडियो के पूरे नेटवर्क पर भी राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के इस भाषण को सुना जा सकेगा. देश की सभी क्षेत्रीय भाषाओं में ये संबोधन दूरदर्शन के सभी क्षेत्रीय चैनलों पर हिंदी और अंग्रेजी के बाद प्रसारित होगा. वहीं आकाशवाणी के केन्द्रों पर क्षेत्रीय भाषाओं में इसका प्रसारण रात साढ़े नौ बजे होगा.

देश में इस समय स्वतंत्रता दिवस के 75 साल पूरे होने के मौके पर आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है. ऐसे राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का ये संबोधन कई मायनों में खास है. वहीं हाल में उनके राष्ट्रपति पद संभालने के बाद ये पहला मौका होगा जब वह राष्ट्र को संबोधित करेंगी. द्रौपदी मुर्मू, देश में आदिवासी समुदाय से आने वाली पहली राष्ट्रपति हैं. वहीं पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के बाद वह देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति हैं.

भारत में स्वतंत्रता दिवस का आधिकारिक समारोह दिल्ली के लाल किले पर होता है. इस दिन देश के प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर पर तिरंगा ध्वजारोहण करते हैं और इसके बाद राष्ट्र को संबोधित करते हैं. इस बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लगातार 9वीं बार लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब पहली बार लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित किया था, तब स्वच्छ भारत जैसे महत्वपूर्ण लक्ष्य और मिशन का ऐलान किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें