scorecardresearch
 

Antilia Case: मनसुख हिरेन को मोहरे की तरह किया गया था उपयोग, जानिए कैसे

Antilia Case: मनसुख हिरेन को मोहरे की तरह किया गया था उपयोग, जानिए कैसे

एंटीलिया कांड में मनसुख की स्कॉर्पियो कार देखने के बाद मनसुख हिरेन को बहुत से फोन आने लगे. नाते-रिश्तेदारों पुलिसवालों और मीडिया के. आखिरी फोन उसे एक पुलिसवाले ने किया उससे मनसुख ऐसे बात कर रहा था जैसे वो किसी दोस्त से बात कर रहा हो. मगर मनसुख इस मामले में नासमझ निकले. क्योंकि जिसे वो अपना दोस्त समझ रहे थे वही उसे मोहरे की तरह इस्तेमाल कर रहा था. मनसुख हिरेन और कुछ नहीं इस मामले में सिर्फ एक मोहरा बनकर रह गए थे. देखें वीडियो

Every day new revelations coming out in the Antilia case. According to the sources the last call Mansukh Hiren was received from a policeman. Mansukh was talking to him like he was talking to a friend. But Mansukh turned out to be unintelligent in this matter. He was used as a pawn. Watch video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें