scorecardresearch
 

सुशांत केस में SC के फैसले के बाद BJP-शिवसेना में चले जुबानी तीर

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या की गुत्थी अब सीबीआई सुलझाएगी. बुधवार को आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद महाराष्ट्र में शिवसेना-भाजपा के बीच जुबानी जंग तेज हो रही है.

सुशांत केस को लेकर बयानबाजी सुशांत केस को लेकर बयानबाजी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अब सीबीआई करेगी सुशांत केस की जांच
  • बीजेपी-शिवसेना के बीच बयानबाजी तेज
  • फडणवीस ने उद्धव सरकार को घेरा

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को सुशांत सिंह मौत मामले की सीबीआई जांच को अनुमति देने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है. बीजेपी के कई नेता अब महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साध रहे हैं, वहीं जाने माने वकील उज्जवल निकम ने भी इसे 'एक ऐतिहासिक फैसला' करार दिया.

विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, अब दिवंगत अभिनेता और उसके फैंस को न्याय मिलने की उम्मीद की जा सकती है. फडणवीस ने कहा, इस फैसले ने न्यायिक प्रणाली में विश्वास बढ़ाया है. महाराष्ट्र सरकार को अब खुद का अवलोकन करने की जरूरत है, जिस तरह से उन्होंने केस को हैंडल किया. मुझे विश्वास है कि सीबीआई जल्द ही अपनी जांच शुरू करेगी.

दूसरी ओर उज्जवल निकम ने कहा कि इस फैसले का दूरगामी प्रभाव दिखेगा. इतिहास में यह पहली बार है कि अपराध किसी अन्य जगह हुआ, एफआईआर कहीं और दर्ज की गई और तीसरी एजेंसी-सीबीआई इसकी जांच करेगी.

उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह की मौत मामले में पूरे देश में इस बात पर संदेह जताया जा रहा था कि यह आत्महत्या है या हत्या, साथ ही मुंबई पुलिस की क्षमता पर भी सवाल उठे, जिसने समय पर इस संदेह को मिटाने के लिए कार्य नहीं किया.

वहीं प्रदेश में भाजपा के उपाध्यक्ष किरीट सोमैया ने कहा कि अब तो ठाकरे सरकार की दादागीरी खत्म होगी. सोमैया ने साथ ही महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख और मुंबई पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह से इस्तीफे की मांग की.

भाजपा नेता नीतीश राणे ने राज्य के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे पर ट्वीट कर निशाना साधा कि अब बेबी पेंगुईन तो गियो, इट इज शोटाइम. वहीं दूसरी तरफ शिवसेना नेता और शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने सुशांत केस में महाराष्ट्र सरकार पर लगाए जा रहे आरोपों की निंदा की है. साथ ही उन्होंने कहा कि वह सुप्रीम कोर्ट के आदेश का अध्ययन करने के बाद ही इस पर टिप्पणी करेंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें