scorecardresearch
 

अयोध्या कूच करने से पहले शिवाजी की जन्मस्थली शिवनेरी जाएंगे उद्धव

राम मंदिर निर्माण की आवाज को अयोध्या से उठाने के लिए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे दो दिने के दौरे पर शनिवार को पहुंचेंगे, लेकिन इससे पहले गुरुवार को उद्वव ठाकरे पुणे जिले में छत्रपति शिवाजी के जन्मस्थल शिवनेरी किले जाएंगे.

X
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (फोटो-PTI)
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (फोटो-PTI)

राम मंदिर निर्माण को लेकर शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे अपने लाव-लश्कर के साथ अयोध्या पहुंचने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. पार्टी ने इसके लिए भव्य तैयारी की है. शिवसेना प्रमुख गुरुवार को पुणे जिले की शिवनेरी किले कि मिट्टी को एक कलश में भरकर अपने साथ अयोध्या लेकर जाएंगे और राम जन्मभूमि के महंत को देंगे.

अयोध्या दौरे से पहले गुरुवार को उद्वव ठाकरे पुणे जिले में छत्रपति शिवाजी के जन्मस्थल शिवनेरी किले जाएंगे. यहां से राम जन्मभूमि पर राम मंदिर निर्माण के लिए शिवनेरी किले कि मिट्टी को एक कलश भरकर अयोध्या ले जाएंगे और उसे राम जन्मभूमि के महंत को देंगे.

उद्धव ठाकरे अयोध्या के जमीन से राम मंदिर निर्माण की हुंकार भरेंगे. इसके लिए वे शनिवार को दो दिनों के दौरे पर अयोध्या पहुंच रहे हैं. वो अयोध्या में पुजारियों और साधु-संतों के साथ बैठक करेंगे.

उद्धव के पहुंचने से पहले शिवसेना नेताओं की एक टीम पहले ही अयोध्या पहुंच चुकी है. अयोध्या मुद्दे को लेकर शिवसेना प्रमुख लगातार बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं. मंगलवार को उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा था कि 15 लाख की तरह क्या राम मंदिर भी एक जुमला है.

बता दें कि उद्धव ठाकरे अयोध्या में रामलला के दर्शन करने के साथ ही सरयू तट पर पूजा अर्चना भी करेंगे. अयोध्या जाने से पहले उद्धव ने एक नया नारा दिया है. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के पहले राम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ हो जाना चाहिए.

शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे ने कहा कि हर हिंदू की यही पुकार, पहले मंदिर- फिर सरकार. यानी सरकार बाद में बने लेकिन पहले राम मंदिर बन जाना चाहिए.

शिवसेना कार्यकर्ताओं के एक जत्था बुधवार को अयोध्या के लिए मुंबई से रवाना हुआ है. शिवसेना कार्यकर्ता ने बताया कि हम राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या जा रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें