scorecardresearch
 

महाराष्ट्र: एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे को विश किया बर्थडे, शिवसेना प्रमुख लिखने से किया परहेज

महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे द्वारा पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे को जन्मदिन की बधाई देना चर्चा का विषय बन गया है. दरअसल शिंदे ने उद्धव ठाकरे को शिवसेना का अध्यक्ष लिखने से परहेज किया है. उन्होंने उद्धव को पूर्व सीएम लिखा है, जिसकी वजह से कुछ लोग नाराजगी भी जता रहे हैं. हालांकि शिवसेना पर दावे को लेकर दोनों गुट चुनाव आयोग में 8 अगस्त तक अपना जवाब दाखिल करेंगे.

X
फाइल फोटो
फाइल फोटो

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने आज पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को जन्मदिन की बधाई दी. उन्होंने एक ट्वीट में देवी जगदंबा से उद्धव ठाकरे के लंबे और स्वस्थ जीवन की प्रार्थना भी की. हालांकि, ऐसा लगता है कि शिंदे ने अपने ट्वीट में उद्धव को शिवसेना के पार्टी अध्यक्ष के रूप में संबोधित करने से परहेज किया. इसकी बजाय उन्होंने उद्धव को पूर्व मुख्यमंत्री कहने तक सीमित कर दिया है, जिससे कई लोग नाराज हो गए हैं. 

एकनाथ शिंदे की ओर से यह ट्वीट एक दिन बाद आता है, जब उद्धव ठाकरे ने शिवसेना के मुखपत्र सामना के कार्यकारी संपादक संजय राउत के साथ अपने इंटरव्यू में शिंदे गुट पर तीखा हमला किया. उद्धव ने आरोप लगाया कि उनके खिलाफ तख्तापलट की योजना तब बनाई गई थी जब वह अस्पताल में लंबी बीमारी से जूझ रहे थे और उन्होंने पार्टी के सेकेंड-इन-कमांड की जिम्मेदारी सौंपी गई थी.  

 

चुनाव आयोग ने 8 अगस्त तक मांगा जवाब

राजनीतिक खींचतान के बीच शिंदे के ट्वीट को उद्धव के लिए एक संदेश के रूप में भी देखा जा रहा है कि शिंदे गुट शिवसेना के नियंत्रण का दावा करने के लिए पूरी तरह तैयार है. जबकि विधायकों की अयोग्यता और दलबदल विरोधी नियमों के संबंध में दोनों गुटों की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में एक अगस्त को सुनवाई होनी है. भारत निर्वाचन आयोग ने भी दोनों समूहों को 8 अगस्त, 2022 को पार्टी पर अपना दावा साबित करने के लिए तलब किया है.  
 

सुप्रीम कोर्ट में 1 अगस्त को सुनवाई

इस बीच शिवसेना के उद्धव गुट ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर चुनाव आयोग में चल रही कार्यवाही पर रोक लगाने की मांग की. सुप्रीम कोर्ट 1 अगस्त को अन्य याचिकाओं के साथ मामले की सुनवाई करेगा. उद्धव गुट की याचिका में कहा गया है कि शिंदे गुट के विधायकों की अयोग्यता का मामला अभी भी लंबित है, ऐसे में आयोग यह तय नहीं कर सकता कि असली शिवसेना कौन है?  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें