scorecardresearch
 

‘मंजिल’ को पाने के लिए नए रास्ते पर शिवसेना? संजय राउत का इशारा

सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद भारतीय जनता पार्टी सरकार नहीं बना रही है और अब शिवसेना सरकार बनाने की ओर बढ़ रही है. लेकिन शिवसेना को इसके लिए एक नया रास्ता चुनना होगा, जिसके बारे में अब संजय राउत ने इशारा भी कर दिया है.

संजय राउत ने ट्वीट कर किया इशारा संजय राउत ने ट्वीट कर किया इशारा

  • शिवसेना नेता संजय राउत का ट्वीट
  • ‘मंजिल के लिए नए रास्ते का इशारा’
  • केंद्र सरकार से इस्तीफा देंगे शिवसेना मंत्री

महाराष्ट्र में इस वक्त राजनीति अलग ही रंग दिखा रही है. सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद भारतीय जनता पार्टी सरकार नहीं बना रही है और अब शिवसेना सरकार बनाने की ओर बढ़ रही है. लेकिन शिवसेना को इसके लिए एक नया रास्ता चुनना होगा, जो अब संजय राउत ने इशारा कर दिया है.

संजय राउत ने सोमवार को ट्वीट किया कि रास्ते की परवाह करूंगा तो मंजिल बुरा मान जाएगी.

दरअसल, शिवसेना लगातार कह रही है कि कुछ भी हो जाए इस बार मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा. यही कारण है कि पार्टी की ओर से भाजपा का साथ छोड़ दिया गया है और अब NCP-कांग्रेस के साथ जाने के लिए तैयार है.

शिवसेना ने बदल दिया रास्ता?

जिस वक्त संजय राउत ने ये ट्वीट किया तभी शिवसेना की ओर से दूसरा ट्वीट भी आया. केंद्र सरकार में शिवसेना कोटे से मंत्री अरविंद सावंत ने अपने इस्तीफे का ऐलान कर दिया. उन्होंने लिखा कि वह दिल्ली में झूठे माहौल में नहीं रह सकते हैं और शिवसेना हमेशा सच के साथ खड़ी होती है. इसलिए वह अपना इस्तीफा देंगे.

ऐसे में अटकलें साफ हैं कि क्या शिवसेना राज्य में सरकार बनाने के लिए एनसीपी और कांग्रेस की शर्त मानने के लिए तैयार है. क्योंकि NCP ने शिवसेना के सामने शर्त रखी थी कि अगर वह केंद्र सरकार से इस्तीफा देती है और भाजपा से गठबंधन तोड़ती है तो ही वह उसके प्रस्ताव पर विचार करेगी.

आपको बता दें कि भाजपा ने रविवार को ही राज्यपाल को सूचित किया है कि वह सरकार नहीं बना रही है. जिसके बाद राज्यपाल ने शिवसेना से पूछा है और उसे आज शाम तक जवाब देना है. शिवसेना अगर भाजपा के साथ नहीं है तो उसके पास एक ही विकल्प बचता है कि वह कांग्रेस और एनसीपी के साथ गठबंधन कर सरकार बनाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें