scorecardresearch
 

पुणे: चंदा कम दिया तो मंडल सदस्यों ने बेकरी कर्मचारियों से कराई उठक-बैठक

भगवान के नाम पर चंदा नहीं दिए जाने पर लोगों की ऐसी दादागिरी बेहद चौंकाने वाली है. मामला पुणे के भोसरी इलाके का है, जहां स्थानीय गणेश मंडल के सदस्यों ने गणेश पूजा के आयोजन के लिए क्राउन बेकरी के कर्मचारियों से चंदा मांगा था.

आरोपियों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है. आरोपियों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है.

पुणे में गणेश उत्सव के लिए चंदा वसूलने गए कुछ युवकों ने एक बेकरी के कर्मचारियों के साथ मारपीट और बदसलूकी की. बताया जा रहा है कि चंदा कम देने पर युवकों ने कर्मचारियों से बीच सड़क उठक-बैठक भी करवाई. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. आरोपियों को कोर्ट में पेश भी किया गया, लेकिन उन्हें चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है.

भगवान के नाम पर चंदा नहीं दिए जाने पर लोगों की ऐसी दादागिरी बेहद चौंकाने वाली है. मामला पुणे के भोसरी इलाके का है, जहां स्थानीय गणेश मंडल के सदस्यों ने गणेश पूजा के आयोजन के लिए क्राउन बेकरी के कर्मचारियों से चंदा मांगा था. मंडल सदस्यों ने चंदे के नाम पर 100 रुपये मांगे, लेकिन जब 100 रुपये के बजाय बेकरी कर्मचारियों ने 50 रुपये दिए, तो मंडल सदस्यों को ऐसा गुस्सा आया कि उन्होंने कथित तौर पर कर्मचारियों को बेइज्जत किया.

मंडल सदस्यों ने बेकरी में काम करने वाले 11 युवकों को पहले वहीं पीटना शुरू कर दिया और फिर सड़क पर खींचकर ले गए और उनकी पिटाई की. इतना ही नहीं, पिटाई के बाद उन लोगों ने युवकों से बीच सड़क उठक-बैठक भी करवाई. दिनदहाड़े ये घटना हुई, लेकिन किसी ने भी इसे रोकने की कोशिश नहीं की. बाद में पीड़ितों ने ही पुलिस में मामला दर्ज कराया. आरोपियों की गिरफ्तारी हुई, लेकिन बाद में उन्हें चेतावनी देकर छोड़ दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें