scorecardresearch
 

बेल से मिला बूस्टर, महाराष्ट्र में आज फिर से ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ शुरू कर रहे नारायण राणे

कोंकण में नारायण राणे की तीन दिन की यात्रा होनी थी. लेकिन बीच में क्योंकि उनकी गिरफ्तारी हो गई, ऐसे में उस यात्रा को स्थगित करना पड़ गया.

X
फिर जन आशीर्वाद यात्रा निकालेंगे राणे (ANI) फिर जन आशीर्वाद यात्रा निकालेंगे राणे (ANI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जन आशीर्वाद यात्रा निकालेंगे राणे
  • 7 सितंबर तक सिंधुदुर्ग में धारा 144 लागू
  • थप्पड़ वाले बयान के बाद हुए थे गिरफ्तार

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे एक बार फिर सक्रिय हो गए हैं. वे महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग से अपनी बहुचर्चित जनआशीर्वाद यात्रा फिर शुरू करने जा रहे हैं. उनकी इस यात्रा को देखते हुए प्रशासन ने भी 7 सिंतबर तक सिंधुदुर्ग में धारा 144 लागू कर दी है. अभी के लिए बीजेपी इस जन आशीर्वाद यात्रा के लिए पूरी तरह तैयार है और नारायण राणे भी कार्यकर्ता में जोश भरते नहीं थक रहे हैं.

फिर जन आशीर्वाद यात्रा निकालेंगे राणे

जानकारी के लिए बता दें कि कोंकण में नारायण राणे की तीन दिन की यात्रा होनी थी. लेकिन बीच में क्योंकि उनकी गिरफ्तारी हो गई, ऐसे में उस यात्रा को स्थगित करना पड़ गया. ये अलग बात रही कि आठ घंटे की हिरासत के बाद उन्हें सेहत के आधार पर बेल भी दे दी गई. जमानत मिलने के बाद गुरुवार को नारायण राणे की तबीयत कुछ ठीक नहीं थी और उन्हें लीलावती अस्पताल ले जाया गया. उनका अस्पताल में जाना कार्यकर्ताओं को चिंता में जरूर डाल गया, लेकिन बाद में पता चला कि केंद्रीय मंत्री बिल्कुल फिट हैं और फिर वे अपनी जन आशीर्वाद यात्रा निकालने को तैयार हैं.

अब पूरी ताकत के साथ नारायण राणे उस यात्रा को निकालने जा रहे हैं. बीजेपी जरूर उद्धव सरकार पर इस यात्रा में बाधा उत्पन करने के आरोप लगा रही है, लेकिन राणे जनता के बीच जाने के लिए एकदम तैयार हैं. वैसे भी विवादित बयान दे चुके राणे अब इतनी सुर्खियों में तो आ ही गए हैं कि हर कोई उन्हीं की चर्चा कर रहा है. अब बीजेपी इस यात्रा के जरिए उस लोकप्रियता को अच्छे से भुनाने की कोशिश करेगी.

क्यों हो लिए थे गिरफ्तार?

राणे के विवादित बयान की बात करें तो उन्होंने वो भी जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान ही दिया था. सीएम उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा था कि ये काफी शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री को नहीं पता कि देश को आजाद हुए कितने साल हो गए. वे अपने भाषण के दौरान पीछे मुड़कर अपने सहयोगी से ये सवाल पूछ रहे थे. अगर मैं वहां होता तो उन्हें थप्पड़ मार देता. इसी थप्पड़ वाले बयान ने नारायण राणे गिरफ्तार हो गए थे. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें