scorecardresearch
 

ब्रिटिश शाही दंपति को सम्मानित करेंगे मुंबई के डब्बावाले

'नूतन मुंबई टिफिन बॉक्स सप्लायर एसोसिएशन' के प्रवक्ता के मुताबिक केट और विलियम का उसी पारंपरिक रूप से स्वागत करेंगे, जैसे एक मराठी 'मुलगा (बेटा) बहू का किया जाता है और उन्हें कई खास तोहफे भी देंगे'.

रविवार को भारत आएगा शाही जोड़ा रविवार को भारत आएगा शाही जोड़ा

भारत यात्रा पर आ रहे ब्रिटिश शाही दंपति प्रिंस विलियम और उनकी पत्नी राजकुमारी केट मिडलटन के लिए खास तोहफा खरीदने के लिए मुंबई के प्रसिद्ध डब्बावाले गुरुवार को खरीदारी करने निकले. केट और विलियम का भारत दौरा रविवार से शुरू हो रहा है.

'नूतन मुंबई टिफिन बॉक्स सप्लायर एसोसिएशन' के प्रवक्ता के मुताबिक केट और विलियम का उसी पारंपरिक रूप से स्वागत करेंगे, जैसे एक मराठी 'मुलगा (बेटा) बहू का किया जाता है और उन्हें कई खास तोहफे भी देंगे'. इस योजनाबद्ध स्वागत के पीछे का कारण बताते हुए तालेकर ने कहा कि डब्बावालों के दो सदस्यों रघुनाथ मेडगे और सोपान मरे को ब्रिटिश शाही दंपति की शादी में आमंत्रित किया गया था.

तालेकर ने कहा- उस दौरान ब्रिटिश शाही परिवार ने उन्हें परिवार के सदस्यों के जितना तवज्जो दिया था. अब 11 साल बाद विलियम और उनकी पत्नी पहली बार भारत आ रहे हैं, तो उनका स्वागत एक बेटे और बहू की तरह किया जाएगा. इसके लिए करीब दर्जन भर डब्बावाले अपनी पत्नियों के साथ गुरुवार को मुंबई के दादर में खरीदारी के लिए गए. इस दौरान उन्होंने केट के लिए महाराष्ट्र की दुल्हन को दी जाने वाली एक खास पेथानी साड़ी और विलियम के लिए एक पगड़ी खरीदी. शाही दंपति के स्वागत की स्वीकृति पाने के लिए सभी डब्बावाले ब्रिटिश उप-उच्चायोग के साथ विचार-विमर्श कर रहे हैं. तालेकर ने कहा कि अगर उन्हें अनुमति नहीं मिलती है, तो वे इन तोहफों को ब्रिटिश उच्चायोग के जरिए शाही दंपति को देंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें