scorecardresearch
 

Mumbai Rains Updates: मुंबई में भारी बारिश का रेड अलर्ट, हाईटाइड का भी खतरा, कई इलाके डूबे, देखें अपडेट्स

Mumbai Weather Forecast Live updates: मुंबई में भारी बारिश के बीच समुद्र में हाईटाइड आ सकती है. इस दौरान 4 से 5 मीटर तक लहरें उठने की संभावना है. इस दौरान अगर भारी बारिश जारी रही तो शहर के निचले इलाके पानी में डूब सकते हैं.

Mumbai Rains Live updates Mumbai Rains Live updates
15:30

Mumbai Rains Live updates: मुंबई में आज भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग ने मुंबई के लिए रेड अलर्ट जारी किया है. डिजास्टर मैनेजमेंट और एनडीआरएफ की टीम भी तैनात है. आज दोपहर करीब सवा 12 बजे मुंबई में 4.26 मीटर के हाई टाइड के आने के आसार हैं. मुंबई में कल सुबह से ही लगातार बारिश हो रही है. 

पहली बारिश में ही मुंबई में बीएमसी के दावों की पोल खुल गई. कई इलाकों में जलजमाव से आम जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यवस्त हो गया. कई लोगों के घरों में पानी भर गया. लोगों के फ्रिज, कुर्सी, मेज और सारा सामान डूब गए. मीठी नदी मॉनसून की पहली बारिश में ही उफन गई. नतीजे के तौर पर आस-पास बने घरों के ग्राउंड फ्लोर डूब गए. लोग बेघर हो गए.

बारिश ने सड़कों को नदी बना दिया. सड़कों से पानी निकालने के इंतजाम एक बार फिर नाकाम साबित हो गए. कई इलाके प्रभावित हुए. अंधेरी सबवे लबालब भर गया. किंग सर्कल और माटुंगा में पानी भर गया. नतीजा ये हुआ कि दुपहिया गाड़ियों वाले पैदल हो गए. कई लोग खराब गाड़ियां खींचते देखे गए. 

Mumbai Rains

हाईटाइड का अलर्ट
मुंबई में भारी बारिश के बीच समुद्र में हाईटाइड आ सकती है. इस दौरान 4 से 5 मीटर तक लहरें उठने की संभावना है. इस दौरान अगर भारी बारिश जारी रही तो शहर के निचले इलाके पानी में डूब सकते हैं. इससे कोरोना काल में मुंबई की मुसीबतें और बढ़ जाएंगी. मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों तक भारी बारिश की चेतावनी दी है और मुंबई में रेड अलर्ट जारी किया गया है.

इमारत गिरी, 11 की मौत
लगातार बारिश से मानो पूरी मुंबई उफनने लगी. भारी बारिश के दौरान बीती रात एक 4 मजिला इमारत ढह गई, जिसमें मरने वालों का आंकड़ा बढ़ गया है और अब तक 11 लोगों की मौत हो गई है. हादसे में घायल 7 की हालत नाजुक है. देर रात करीब 11 बजे ये हादसा हुआ. जिस वक्त हादसा हुआ उस वक्त इमारत में करीब 20 लोग थे. 

बारिश में साफ होने की जगह बिगड़ गई मुंबई की हालत
मुंबई में मॉनसून ने एक दिन पहले दस्तक दी और देश की आर्थिक राजधानी की सूरत बिगड़ गई. दुनिया भर के बड़े शहरों को मॉनसून और भी ज्यादा साफ-सुथरा बना देता है. लेकिन 39 हजार करोड़ के बजट वाले BMC के रहते हुए मुंबई की हालत इससे बिलकुल विपरीत है. यहां पर BMC की मेहरबानी से मायानगरी पहचान में ही नहीं आती है. यहां हर बार की यही कहानी है. हर साल मुंबई में सड़कों की नालियों को साफ किया जाता है और हर साल ये शहर ताल तलैया बन जाता है.

बारिश में डूबी मुंबई

5 दिन का रेड अलर्ट जारी
मुंबई का ये हाल तब है जब बारिश और हाइ टाइड का संगम नहीं हुआ है. अगर कहीं ये मिल जाते तो मुंबई शहर की मुसीबतें कई गुना बढ़नी तय थी. ऐसा नहीं है कि स्थानीय प्रशासन को बारिश की जानकारी नहीं थी. BMC ने शहर के बड़े नालों को पूरी तरह से साफ करने का दावा किया था लेकिन ये दावा विफल होता दिख रहा है. लेकिन असल चिंता की बात ये है कि मॉनसून को लेकर आधी अधूरी तैयारियों वाले मुंबई में अगले 5 दिन बहुत भारी हैं. क्योंकि मौसम विभाग ने बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है. यानी अगले पांच दिन मुंबई में जोरदार बारिश होगी.

मुंबई में बारिश के बाद बिगड़े हालात, डूबे रेलवे ट्रैक

फेल हुए सारे दावे
ऐसा क्यों है कि हर मॉनसून में मुंबई पर ऐसी मुसीबत आती है. कि कुछ ही घंटे में ही चमक दमक वाला शहर अस्त व्यस्त हो जाता है. मॉनसून में इस बड़ी मुसीबत से मुंबई को बचाने के दावे हर बार किए जाते हैं. इस बार भी ऐसा ही हुआ था. बीएमसी ने फ्लड फ्री मुंबई का सपना दिखाया था.

मुंबई में 386 ऐसी जगहों की पहचान की गई थी, जहां पर मॉनसून में बाढ़ के हालात बन जाते हैं. इनमें 58 ऐसी जगहें हैं, जहां पर सुधार के लिए 150 करोड़ रुपये का अलग से बजट रखा गया था. बाढ़ वाली 386 जगहों में बीएमसी का दावा था कि इनमें 171 जगहों को फिक्स कर दिया गया. यानी यहां काम पूरा हो गया. 118 जगहों को 2022 के मॉनसून से पहले ठीक करने की बात कही गई.

कहा गया था कि नाले चौड़े किए जाएंगे. ड्रेनेज सिस्टम के अंदर रुकावटें दूर होंगी. अतिरिक्त नाले बनाए जाएं. बड़े बड़े अंडरग्राउंड वाटर टैंक बनाए जाएंगे. लेकिन बीएमसी के ये दावे सिफर साबित हुए. लेकिन सवाल ये है कि मॉनसून से पहले जो बड़ी बड़ी बातें की गई थीं. उसमें बीएमसी फेल क्यों गई. और क्या सैकड़ों करोड़ रुपये सतही कामों में ही फूंक दिए गए. नतीजा ये हुआ कि मुंबई इस मॉनसून में भी जस की तस है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें