scorecardresearch
 

3 घंटे में गैस रिसाव पर 82 कॉल, जांच में मुंबई पुलिस के पसीने छूटे

गुरुवार को 20:39 बजे से 23:43 बजे के बीच मुंबई पुलिस कंट्रोल रूम को गैस रिसाव की शिकायत के बारे में कुल 82 कॉल मिले.

मुंबई पुलिस (फाइल फोटो) मुंबई पुलिस (फाइल फोटो)

  • पुलिस को 3 घंटे में मिलीं गैस रिसाव की 82 शिकायतें
  • रात भर जांच में जुटी रहीं एजेंसियां, सुबह खत्म हुआ ऑपरेशन

मुंबई पुलिस को 3 घंटे में गैस रिसाव की 82 शिकायतें मिलीं, जिसके बाद शहर का प्रशासन सकते में आ गया. गुरुवार को 20:39 बजे से 23:43 बजे के बीच मुंबई पुलिस कंट्रोल रूम को गैस रिसाव की शिकायत के बारे में कुल 82 कॉल मिले. ये शिकायतें घाटकोपर, पवई, चंडीविल्ली, जोगेश्वरी, मलाड, विले पार्ले और बोरिवली से आई हैं.

स्थानीय पुलिस स्टेशन से टीमें तुरंत रवाना कर दी गईं और वे कुछ ही मिनटों में घटनास्थल पर पहुंच गईं. इस दौरान महानगर गैस लिमिटेड, आरसीएफ और बीपीसीएल से भी बात की गई. तीनों ने बताया कि उनके संयंत्र या पाइपलाइनों से कोई रिसाव नहीं हुआ था.

बीएमसी और एमएफबी भी हरकत में आई, सिटी डिजास्टर सेल को भी सक्रिय किया गया और 9 दमकल वाहनों को भी तैनात किया गया. विभिन्न स्थानों पर पहुंचने पर गैस के रिसाव का कोई निशान नहीं मिला, न ही रिसाव का स्रोत मिल सका.

यही नहीं, एनडीआरएफ की यूनिट को भी गैस रिसाव का पता लगाने के लिए अंधेरी से मौके पर भेजा गया. एनडीआरएफ टीम ने आरसीएफ चेम्बूर और शहर के अन्य क्षेत्रों का दौरा किया, लेकिन गैस रिसाव कहीं भी देखने को नहीं मिला. करीब साढ़े 3 घंटे की मेहनत के बाद एनडीआरएफ की टीम वापस लौट गई.

इस बात की पुष्टि करने के बाद कि किसी भी प्रकार की गंध या गैस रिसाव नहीं हुई थी, ऑपरेशन को सुबह में रोक दिया गया. रात या सुबह में गैस रिसाव से संबंधित कोई और कॉल नहीं मिली. फिलहास स्थिति सामान्य है. हालांकि, सभी एजेंसियां ​​अब गैस की गंध के स्रोत का पता लगाने की कोशिश कर रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें