scorecardresearch
 

आफत भरी रात के बाद मुंबई को उबारने में जुटीं एजेंसियां

मायानगरी मुंबई और इसके आसपास के इलाके में मूसलाधार बारिश की मुसीबत टूट पड़ी. मुंबई में सोमवार देर रात थमी बारिश मंगलवार सुबह से दोबारा जारी है. इस बीच मौसम विभाग ने अगले 2-3 दिनों तक भारी बारिश की आशंका जताते हुए रेड अलर्ट जारी किया है.

मुंबई में मंगलवार को 298 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई मुंबई में मंगलवार को 298 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई

मायानगरी मुंबई और इसके आसपास के इलाके में मूसलाधार बारिश की मुसीबत टूट पड़ी है. मुंबई में सोमवार देर रात थमी बारिश मंगलवार सुबह से रुक-रुककर जारी है. इस बीच मौसम विभाग ने अगले 2-3 दिनों तक भारी बारिश की आशंका जताते हुए रेड अलर्ट जारी किया है.

लाइव अपडेट-

-बारिश रूकने के बाद पटरी पर लौटी मुंबई लेकिन मौत का आंकड़ा बढ़ा. कार में दम घुटने के बाद एक वकील की मौत, पवई लेक में गिरने के बाद एक और शख्स ने तोड़ा दम.

-शहर के नामी डॉक्टर दीपक अमरापुर्कर के लापता होने की खबर है. वह मंगलवार की शाम 6:45 बजे से लापता बताए जा रहे हैं. उनके मैनहोल में बहने की आशंका जताई जा रही है.

-फिलहाल मुंबई में थम गई है आफत की बारिश

-इस बीच रेल अधिकारी पंप के जरिये पटरियों से पानी हटाने में जुटे हैं.

-समता नगर में 26 साल का एक शख्स मैनहोल में बहा. वहीं मालवाणी इलाके में अपने परिवार के गणेश विसर्जन को निकला 17 साल का एक लड़के के भी पानी में बहने की खबर है.

-कुर्ला की झुग्गी बस्तियों में रहने वाले लोगों का आरोप- प्रशासन से कोई मदद नहीं मिली

 

-भारी बारिश के कारण दहिसर और कांदीवली में दो लोग दहिसर नदी में बहे

-मुंबई से जाने वाली एअर इंडिया की सभी उड़ाने देरी से चल रही है. वहीं एयरपोर्ट पीआरओ ने बताया कि मुंबई एयरपोर्ट पर सेवाएं फिलहाल सामान्य है.

-मुंबई के जोगेश्वरी इलाके में फिर भारी बारिश शुरू

-मौसम विभाग की तरफ से 8.30 बजे जारी आंकड़ों के मुताबिक, कोलाबा में 111 MM, सांताक्रूज में 328 MM बारिश दर्ज की गई. अगले 24 घंटों के दौरान कई इलाक में तेज से बहुत तेज बारिश की आशंका जताई गई है.

-इस बारिश की वजह से मुंबई डब्बावालों भी आज काम नहीं कर रहे हैं. उनका कहना है कि मंगलवार को भेजे लंचबॉक्स ही वे इकट्ठा नहीं कर पाए हैं.

-भारी बारिश के बाद से बाधित हुई लोकल ट्रेन सेवा कुछ जगहों पर बहाल होनी शुरू हो गई है. शीव स्टेशन के रास्ते अप और डाउन ट्रेनों की सेवा धीरे-धीरे चल रही है। फंसी हुई ट्रेनों को पहले निकाला जाएगा, फिर सीएमएमटी-ठाणे रूट की सेवाएं शुरू होंगी.

 

-वेस्टर्न रेलवे की चर्चगेट से विरार की सेवा बहाल हो गई. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, वेस्टर्न लाइन पर ट्रेनों की सामान्य आवाजाही हो रही है, वहीं सेंट्रल लाइन पर आवाजाही 80% तक बहाल हो चुकी है.

 -मुंबई के मुलुंद में मूसलाधार बारिश के बाद भारी जलजमाव दिखा

 

-ये धारावी की तस्वीरें हैं, जहां सुबह कोई बारिश दर्ज नहीं की गईं और धीरे-धीरे सामान्य जनजीवन पटरी पर लौटता दिखा.

 

-भारी बारिश के कारण ठाणे रेलवे स्टेशन पर सुबह भी पटरियों पर पानी भरा रहा

 

सेंट्रेल रेलवे ने कुर्ला से डोंबीवली के बीच लोकल सेवा बहाल की

 

इससे पहले भारतीय नौसेना ने सीएसएमटी पर फंसे लोगों को सुबह चाय और नाश्ता बांटा

 

नौसेना और NDRF अलर्ट पर

वहीं नौसेना के हेलीकॉप्टरों को एहतियातन राहत और बचाव कार्यों के लिए तैयार रखा गया है और एनडीआरएफ को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है. वहीं नौसेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि बाढ़ बचाव दल और गोताखोर भी तैनाती के लिए तैयार हैं.

मकान ढहने से 3 की मौत

इससे पहले मुंबई में मंगलवार को 298 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई, जिससे वर्ष 2005 में आई आपदा की याद फिर ताजा हो गई. इस मूसलाधार बारिस की वजह से मुंबई के उपनगर विक्रोली में दो घरों के ढहने से दो बच्चों सहित तीन लोगों की मंगलवार को मौत हो गई.

ज्वार ने बढ़ाई मुसीबत

इस मूसलधार बारिश ने शहर में रेल, सड़क और हवाई सेवा को भी बाधित कर दिया. कई जगहों पर पेड़ गिर गए और लोग कई घंटों तक रास्ते में फंसे रहे. दरअसल ज्वार (हाई टाइड) के साथ बारिश ने लोगों की दिक्क्तें और बढ़ा दी हैं, जिससे पानी की समुद्र में प्राकृतिक तरीके से निकासी नहीं हो पा रही.

बारिश में घंटों तक फंसे रहे लोग

लोअर परेल, दादर, कुर्ला, अंधेरी, खार पश्चिम, घाटकोपर, सायन और हिंदमाता इलाकों में हजारों वाहन सड़कों पर फंसे हुए हैं. इन इलाकों में कई घंटे से घुटनों से लेकर कमर तक पानी भरा है.बारिश का पानी घरों, अस्पतालों और रेलवे स्टेशनों में भी घुस गया. लोकल ट्रेन की रफ्तार भी थम सी गई है और तीनों सबअर्बन रेलवे लाइनों सेंट्रल, नॉर्थ और हार्बर पर ट्रेनें देरी से चल रही थी या रुक गई. कई जगहों पर पटरियों पर पानी भर गया है. बारिश थमने का इंतजार कर रहे परेशान यात्रियों को बीच रास्ते में रुकी हुई ट्रेनों से कूदते और पटरियों के सहारे पैदल चलकर जाते हुए देखा गया.

स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद

बृहद मुंबई म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन (बीएमसी) ने बुधवार को सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद करने का भी निर्देश दिया गया है. महाराष्ट्र सरकार में मंत्री विनोद तावड़े ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि भारी बारिश होने की संभावना को देखते हुए सभी स्कूलों और कॉलेजों को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं.

BMC कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द

BMC ने मुंबई के हालात देखते हुए अपने सभी कर्मचारियों की छुट्टियां रदद् कर दी हैं. बारिश के कारण मुसीबत में फंसे लोगों के लिए इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर 1916 जारी किया गया है. BMC ने बताया कि जल भराव पर काबू पाने के लिए छह बड़े पंपिंग स्टेशन स्थापित किए गए हैं और उसके 30 हजार कर्मचारी राहत व बचाव कार्यों में लगे हैं.

मुंबई पुलिस ने लोगों को किया आगाह

मुंबई पुलिस ने लोगों को आगाह किया है कि अगर पानी का स्तर गाड़ियों के टायर तक पहुंच जाए तो लोग गाड़ियों को छोड़कर पैदल निकले. मुंबई की सड़कों पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात हैं और मुश्किल में लोगों की मदद कर रहे हैं. मुंबई पुलिस ने भारी बारिश के कारण रास्तों में फंस गए लोगों से पुलिस का आपातकालीन नंबर या 100 नंबर मिलाने को या पुलिस के ट्विटर हैंडल पर संदेश भेजकर मदद मांगने को कहा है.

सीएम ने लोगों से की घरों से न निकलने की अपील

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मौसम विभाग की चेतावनी के मद्देनजर मुंबई और शहर के आस-पास के इलाकों में रहने वाले लोगों को तब तक घर से न निकलने को कहा है जब तक कि कोई इमरजेंसी न हो. उन्होंने मुंबई के सभी एंट्री पॉइंट्स और सी लिंक पर हालात सामान्य होने तक टोल कलेक्शन को निलंबित करने का निर्देश दिया है.

पीएम मोदी और राजनाथ सिंह ने दिया मदद का भरोसा

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से हालात पर बातचीत की और केंद्र की ओर से हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मुंबई और आसपास के इलाकों में मूसलधार बारिश की वजह से पैदा हुए हालात पर बातचीत की.' उन्होंने कहा, 'केंद्र महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में भारी बारिश की वजह से बने हालात से निपटने के लिए राज्य सरकार को हरसंभव सहायता का आश्वासन देता है.'

12 साल बाद आपात स्थिति घोषित

सोमवार से जारी बारिश की वजह से 12 साल बाद मुंबई महानगरपालिका ने आपात अलर्ट जारी किया है. इससे पहले 26 जुलाई, 2005 को ऐसा किया गया था. मंगलवार के हालत देखकर मुंबई के लोगों को साल 2005 का वो दिन याद आ गया, जब 26 जुलाई को दोपहर दो बजे शुरू हुई बारिश अगले दिन 27 जुलाई को सुबह साढ़े आठ बजे तक हुई थी. तब मुंबई में 18 घंटे की बरसात में 944 मिलीमीटर पानी बरसा था और बारिश ने 409 लोगों की जान ले ली थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें