scorecardresearch
 

इमारतें धड़ाम, प्रशासन नाकाम: मुंबई में अब गिरी 100 साल पुरानी बिल्डिंग

आखिर कब तक मायानगरी इस तरह के हादसों का शिकार होती रहेगी, कभी पुल का गिर जाना, पानी भर जाना, इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा राज्य सरकार या फिर BMC?

Mumbai Building Collapse Mumbai Building Collapse

सपनों की नगरी मुंबई एक बार फिर हादसे का शिकार हुई है. डोंगरी इलाके की सौ साल पुरानी बिल्डिंग मंगलवार को गिर गई. जिसके नीचे करीब 40-50 लोग दब गए. हादसे में 12 लोगों की मौत हो गई है लेकिन ये घटना एक बार फिर बड़ा सवाल छोड़ गई है. आखिर कब तक मायानगरी इस तरह के हादसों का शिकार होती रहेगी, कभी पुल का गिर जाना, पानी भर जाना, इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा राज्य सरकार या फिर BMC?

100 साल पुरानी बिल्डिंग, क्यों नहीं जागी सरकार?

डोंगरी इलाके में मंगलवार को जो बिल्डिंग गिरी वह करीब 100 साल पुरानी है. हादसे के चश्मदीदों ने भी इस बात की पुष्टि की है कि बिल्डिंग की हालत ठीक नहीं थी, फिर भी इसमें 8-10 परिवार रुके हुए थे.

ये बिल्डिंग BSB डेवलपर्स की है. इस बिल्डिंग को 2012 में NOC दी गई थी. MHADA के मुताबिक, ये बिल्डिंग उस लिस्ट का हिस्सा नहीं है, जिसमें खतरनाक बिल्डिंगों को शामिल किया गया है. ऐसे में अब इसपर भी सवाल खड़े हो रहे हैं, जब बिल्डिंग की हालात इतनी जर्जर है तो इसे खतरनाक बिल्डिंगों की लिस्ट में क्यों शामिल नहीं किया गया है.

CM ने दिया जांच का आश्वासन

अगर राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के बयान को देखें तो उन्होंने सिर्फ जांच का भरोसा दिया है. CM ने कहा कि ये 100 साल पुरानी बिल्डिंग है, वहां के निवासियों को इस बिल्डिंग के रिडेवलेप होने की परमिशन मिली थी. हालांकि, अभी हमारा फोकस लोगों को बचाने पर है. जब सारी बातें सामने आएंगी तो इसकी जांच कराई जाएगी.

मुंबई में हाल में कब-कब हुए हादसे?

2 जुलाई 2019: मलाड में बारिश की वजह से दीवार गिरने से 25 लोगों की मौत

1 जुलाई 2019: कल्याण में स्कूल की दीवार गिरने से 3 लोगों की मौत

23 दिसंबर, 2018: गोरेगांव में निर्माणाधीन इमारत गिरने से 3 की मौत

24 जुलाई 2018: भिवंडी में इमारत गिरने से युवती की मौत

31 अगस्त 2017: भायखाला में इमारत गिरने से 32 की मौत

ये आंकड़े तो सिर्फ बिल्डिंग गिरने के हैं, जबकि कुछ दिनों पहले जब मुंबई में लगातार बारिश हो रही थी. तो लोगों के पानी में फंसने की बात हो, बच्चे के गटर में बह जाने की बात हो या फिर गाड़ी में फंस जाने की वजह से लोगों की मौत हो, मुंबई में लगातार प्रशासन पर सवाल खड़े होते रहे हैं. वहीं, कई बार पुल गिरने की घटनाएं भी हादसों की बड़ी वजह बनी हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें