scorecardresearch
 

बारिश से मुंबई पर आफत, कल बंद रहेंगे सारे स्कूल-कॉलेज, PM मोदी ने सीएम से ली हालात की जानकारी

मूसलाधार बारिश की वजह से 29 अगस्त, 2017 को मायानगरी मुंबई की रफ्तार पर ब्रेक लग गया. मंगलवार शाम जारी आंकड़ों के मुताबिक सुबह आठ बजे से दोपहर तीन बजे तक 105 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई. बारिश की वजह से जलभराव होने से कई ट्रेनें और फ्लाइटें देर से चलीं.

मुबंई में भारी बारिश से जनजीवन प्रभावित मुबंई में भारी बारिश से जनजीवन प्रभावित

मूसलाधार बारिश की वजह से 29 अगस्त, 2017 को मायानगरी मुंबई की रफ्तार पर ब्रेक लग गया. मंगलवार शाम जारी आंकड़ों के मुताबिक सुबह आठ बजे से दोपहर तीन बजे तक 105 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई. बारिश की वजह से जलभराव होने से कई ट्रेनें और फ्लाइटें देर से चलीं.

भारी बारिश के बाद पूरी मुंबई नगरी में बाढ़ जैसे हालात नजर आ रहे हैं. ऐसे में NDRF की 10 टीमें मुंबई में तैनात की गईं हैं. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के डीजी संजय कुमार ने बताया कि NDRF की टीम लगातार स्थानीय प्रशासन के संपर्क में है, जरूरत के मुताबिक टीमों को डाइवर्ट किया जा रहा है. टीमें बाढ़ से निपटने के लिए जरूरी साजो-सामान से लैस हैं.

मुंबई के किन इलाकों में भरा है पानी, यहां पर मैप देखें...

लाइव अपडेट्स...

-सेंट्रल और वेस्टर्न रेलवे के अधिकारियों ने सूचना दी है कि शाम 7 बजे से पानी का स्तर कम होने लगा, लेकिन ट्रेनों के संचालन के लिए जरूरी है कि पानी का स्तर रेलवे ट्रैक पर 100 मिमी तक आ जाए. अभी ट्रैकों पर पानी का स्तर 300 मिमी है. रेलवे हालात पर नजर रखे हुए है, पानी का स्तर कम होते ही ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया जाएगा.

-महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस ने मुंबई के रास्ते पड़ने वाले सभी टोल केंद्रों को हालात सामान्य होने तक टोल ना लेने के निर्देश दिए हैं.

-दिन-रात रेस्क्यू के लिए तैयार हैं नेवी के 42 कैडेट

-मुंबई में कम होती बारिश को देखते हुए बांद्रा-वर्ली सी लिंक खोला गया.

-महाराष्ट्र सरकार में मंत्री विनोद तावड़े ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि कल भी भारी बारिश होने की संभावना को देखते हुए सभी स्कूलों और कॉलेजों को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं.

-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीएम फडनवीस से मुंबई के हालात की जानकारी ली. पीएम मोदी ने केंद्र की ओर से महाराष्ट्र सरकार को सभी तरह की सहायता मुहैया कराने का आश्वासन दिया है. पीएम ने मुंबई और प्रभावित इलाकों के लोगों को सुरक्षित रहने और सभी तरह की सावधानियां बरतने को कहा है.

-BMC डिप्टी म्यूनिसिपल कमीश्नर सुधीर नायक ने बताया कि सबसे ज्यादा बारिश वडाला में 253 मिमी दर्ज की गई है.

-बीएमसी के मुताबिक मुंबई के सांताक्रूज इलाके में सबसे ज्यादा बारिश हुई. आज सुबह आठ बजे से दोपहर तीन बजे तक यहां 126 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई. बारिश की वजह से यहां भारी ट्रैफिक जाम लगा हुआ है.

-मुंबई एयरपोर्ट पर हवाई सेवा बहाल हो गई है. बारिश और लो विजिबिलिटी की वजह से करीब एक घंटे तक विमानों की आवाजाही रोक दी गई थी.

-मुंबई में आज सुबह आठ बजे से दोपहर तीन बजे तक 105 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है.

-भारी बारिश से जूझ रही मुंबई के लिए BMC ने इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर 1916 जारी किया है.

-मुंबई से उड़ान भरने वाली सभी फ्लाइटें एक घंटे देर से चलेंगी. एयरपोर्ट अथॉरिटी के मुताबिक लो विजिबिलिटी की वजह से कुछ समय के लिए देर से फ्लाइटें देर से उड़ान भरेंगी. मुंबई एयरपोर्ट पर पिछले एक घंटे से विमानों की आवाजाही ठप है.

-सीएम फडनवीस ने अपील की है कि सभी लोग जारी की जा रही ट्रैफिक एडवाइजरी का पालन करें. बारिश में फंसे लोग मुंबई पुलिस को ट्वीट या कॉल भी कर सकते हैं.

-महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस ने लोगों से अपील की है कि वे बहुत जरूरत पड़ने पर ही अपने घरों से निकलें.

- राज्य मौसम विभाग ने मुंबई में अगले तीन दिनों तक तेज बारिश की संभावना जताई.

- बारिश की वजह से मुंबई एयरपोर्ट पर सभी फ्लाइट 40 मिनट लेट और ट्रैफिक की रफ्तार बहुत धीमी हो गई है.

- मुंबई पुलिस की लोगों से अपील, एक दम पैनिक ना हो. आराम से ऑफिस से निकलें.

- मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस SDMC के कंट्रोल रूम में जायजा लेने पहुंचे.

- एनडीआरएफ की टीमें भी भेजी गई हैं.

- शाम 5 बजे हाई टाइड की चेतावनी दी गई है.

- बारिश को देखते हुए आपदा प्रबंधन दल, बीएमसी कंट्रोल रूम अलर्ट पर है.

- मुंबई पुलिस ने सड़क पर फंसे हुए लोगों को 100 नंबर डायल करने के लिए कहा. इसके अलावा ट्विटर पर संपर्क करने के लिए कहा. साथ ही मदद का आश्वासन दिया.

अस्पताल में पानी भरा तो दूसरी मंजिल पर शिफ्ट किए गए रोगी

परेल स्थित केईएम अस्पताल में बारिश का पानी भर गया. अस्पताल प्रशासन को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. डीन डॉ. अविनाश सुपे ने 'लोकमत' को बताया कि अस्पताल के ग्राउंड फ्लोर में पानी भरने के बाद करीब 30 मरीजों को अस्पताल की दूसरी मंजिल पर शिफ्ट किया गया है. इस बीच एनडीआरएफ की दो टुकड़ियों को मुंबई रवाना कर दिया गया है.

महाराष्ट्र के दूसरे इलाकों में भी बारिश का खतरा

मुंबई के अलावा महाराष्ट्र के कई और इलाकों में भारी बारिश की आशंका जताई गई है. कोंकण, विदर्भ और मध्य महाराष्ट्र में भी अगले 24 घंटे में मूसलाधार बारिश की आशंका जताई गई है.

ट्रेन सेवा सबसे ज्यादा प्रभावित, रुकी लाइफलाइन

मुंबई में इस भारी बारिश के कारण कई हिस्सों में पानी घुस गया. बांद्रा रेलवे स्टेशन में भी पानी भर गया. इसके चलते ट्रेनों की आवाजाही में रोक दी गई.

लोग हुए घायल

वहीं, वीपी रोड पर बारिश के चलते लोहे की छड़ गिरने की वजह से 4 लोग घायल हो गए है. घायलों को अस्पताल में भेजा गया. वहीं शहर के प्रसिद्ध केईएम अस्पताल में भी पानी घुस गया.

इन इलाकों में भरा सबसे ज्यादा पानी

मुंबई में जहां जलभराव की स्थिति है वो जगह है- हिंदमाता, दादर, एल्फिन्स्टोन क्षेत्र, अंधेरी पूर्व, वडाला, जोगेश्वरी स्टेशन, खार पश्चिम, जोगेश्वरी, अंधेरी. जोगेश्वरी विक्रोली लिंक रोड पर ट्रैफिक जाम भी हो गया है.

टूटेगा 12 साल पुराना रिकॉर्ड? 2005 जैसी हो रही है बारिश

मौसम अधिकारियों का मानना ​​है कि 26 जुलाई, 2005 के बाद से ये भारी बारिश हो सकती है. उस समय शहर बाढ़ से तबाह हो गया था. अब भी मुंबई पानी में डूब गई है.

बीएमसी ने बताया कि पिछले 24 घटों में तीन जगहों पर दीवारें ढह गई, 16 जगहों से शॉर्ट सर्किट की शिकायत आई है, जबकि 23 पेड़ बारिश में गिर गए.

12 साल बाद आपात स्थिति घोषित

सोमवार से जारी बारिश की वजह से 12 साल बाद मुंबई महानगरपालिका ने आपात अलर्ट जारी किया है. इससे पहले 26 जुलाई, 2005 को ऐसा किया गया था.

बीएमसी ने क्या की है तैयारी?

बीएमसी ने बताया कि मुंबई में पिछले एक साल में 70 मिमी बारिश दर्ज की गई है, जबकि मंगलवार सुबह 8.30 बजे 100 मिमी बारिश दर्ज की गई थी. पानी निकालने के लिए 136 वाटर पंप शहर में काम कर रहे हैं. बीएमसी ने नागरिकों से अनुरोध किया है कि वे घर से बाहर ना जाए, जब तक कि वहां बहुत महत्वपूर्ण काम ना हो.

मुंबई डब्बावालों के पैर भी थमे

टाइम पर अपनी सेवा देने के लिए फेमस मुंबई के डब्बावालों के पैर भी भारी बारिश की वजह से रुक गए. मुंबई डब्बावालों की सर्विस भी इस बारिश की वजह से बुरी तरह प्रभावित हो गई.

फ्लाइट कैंसल होने से लोग परेशान

उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने इसे "टाइफून-जैसा मौसम" बताया. उन्होंने कहा कि शहर के बड़े हिस्सों में सड़कों पर बाढ़ आ गई है. यातायात धीमा हो गया है और रेलगाड़ियों में देरी हो रही है. साथ ही उन्होंने कहा, 'मुझे खराब मौसम के चलते मेरी दिल्ली की फ्लाइट कैंसल करनी पड़ी. मैं वहां इंडो ऑस्ट्रेलियन मीटिंग के लिए जा रहा था. मैंने मेरे ऑस्ट्रेलियन दोस्तो को बताया कि मैं पानी में फंसा हुआ हूं.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें