scorecardresearch
 

पोस्टमॉर्टम के बाद परिवार को सौंपा गया मोहन डेलकर का शव, विसरा रखा सुरक्षित

दादरा और नागर हवेली के सांसद मोहन डेलकर का शव पोस्टमार्टम के बाद उनके परिजन को आज सौंप दिया गया. मुंबई के एक होटल में वह मृत पाए गए थे. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनकी मौत दम घुटने से हुई है. माना जा रहा है कि उन्हें मृत पाए जाने से सात घंटे पहले उनकी मौत हुई होगी.

मोहन डेलकर (फाइल फोटो) मोहन डेलकर (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा
  • मुंबई के होटल में मृत पाए गए थे डेलकर
  • पोस्टमॉर्टम में दम घुटने से मौत बताया

दादरा और नागर हवेली के सांसद मोहन डेलकर का शव पोस्टमार्टम के बाद उनके परिजन को आज सौंप दिया गया. मुंबई के एक होटल में वह मृत पाए थे. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनकी मौत दम घुटने से हुई है. माना जा रहा है कि उन्हें मृत पाए जाने से सात घंटे पहले उनकी मौत हुई होगी.

मुंबई के होटल में सोमवार दोपहर बाद उन्हें मृत पाया गया था. इसलिए संदेह है कि उन्होंने सुबह 7-8 बजे के दौरान आत्महत्या की होगी. बहरहाल, फॉरेंसिक जांच के लिए उनका विसरा सुरक्षित रखा गया है.

असल में, दादरा और नागर हवेली के सांसद डेलकर का शव सोमवार को दक्षिणी मुंबई के एक होटल में छत के पंखे से लटका मिला था. सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची थी. एक समाचार एजेंसी के मुताबिक सरकारी जे जे अस्पताल में पोस्टमार्टम किया गया और इसके बाद शव को परिवार के सदस्यों को सौंप दिया गया.  

बता दें कि डेलकर दादरा और नागर हवेली से सात बार सांसद चुने गए. वह सातवीं बार 2019 में निर्वाचित हुए थे. डेलकर को 1989, 1991 और 1996 के चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार और 1998 में बीजेपी उम्मीदवार के रूप में कामयाबी मिली थी. वह दोबारा कांग्रेस में शामिल हो गए और 2009 और 2014 के लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार तो बने लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली. डेलकर के परिवार में उनकी पत्नी, एक बेटा और एक बेटी है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें