scorecardresearch
 

महाराष्ट्र में दंगल जारी, मातोश्री के बाहर फिर लगे पोस्टर: ‘माझा आमदार, माझा मुख्यमंत्री’

मुंबई में ये पोस्टर कहीं ओर नहीं बल्कि मातोश्री के बाहर लगे हैं, जो शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का आवास है. इन पोस्टरों में आदित्य ठाकरे, उद्धव ठाकरे की तस्वीर लगी हुई है.

मातोश्री के बाहर लगे पोस्टर मातोश्री के बाहर लगे पोस्टर

  • महाराष्ट्र में सरकार गठन पर मंथन जारी
  • मातोश्री के बाहर आदित्य के समर्थन में लगे पोस्टर
  • ‘माझा आमदार, माझा मुख्यमंत्री’ के पोस्टर लगाए

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच मुख्यमंत्री पद को लेकर मंथन खत्म नहीं हुआ है. 24 अक्टूबर को राज्य में चुनाव नतीजे आए थे, लेकिन अब तक ये साफ नहीं हो पाया है कि सरकार कौन बना रहा है? हालांकि, हर कोई मुख्यमंत्री पद के लिए दावा जरूर कर रहा है. अब एक बार फिर शिवसेना की ओर से मुख्यमंत्री पद पर दावा करते हुए पोस्टर लगे हैं, जिसमें लिखा है ‘मेरा विधायक, मेरा मुख्यमंत्री’.

मुंबई में ये पोस्टर कहीं ओर नहीं बल्कि मातोश्री के बाहर लगे हैं, जो शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का आवास है. इन पोस्टरों में आदित्य ठाकरे, उद्धव ठाकरे की तस्वीर लगी हुई है. इन्हें शिवसेना के कार्पोरेटर हाजी हालिम खान ने लगवाया है. जिसमें मराठी भाषा में लिखा है, ‘माझा आमदार, माझा मुख्यमंत्री’.

गौरतलब है कि इससे पहले भी मातोश्री के बाहर आदित्य ठाकरे या उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाने की मांग करते हुए पोस्टर चस्पा किए गए थे. हालांकि, बाद में इन पोस्टरों को BMC की ओर से हटवा दिया गया था.

शिवसेना-बीजेपी में कहां अटकी बात?

दरअसल, शिवसेना और भाजपा में चुनाव नतीजों के बाद से ही मुख्यमंत्री पद पर विवाद चल रहा है. शिवसेना इस बात पर अड़ी है कि सरकार गठन में 50-50 फॉर्मूले को अपनाया जाए और कैबिनेट में बराबर की हिस्सेदारी मिले. लेकिन भाजपा इसपर मानने को तैयार नहीं है. दोनों पार्टियों की ओर से लगातार इसपर बयानबाजी हो रही है.

शिवसेना नेता संजय राउत इस बात को कई बार दोहरा चुके हैं कि शिवसेना अपनी मांग से पीछे नहीं हटेगी और जो भी तय हुआ था उसे ही लिया जाएगा. दूसरी ओर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सोमवार को नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की, हालांकि इसे सूखे के मुद्दे पर मुलाकात बताया गया. लेकिन ऐसे संकेत भी मिल रहे हैं कि अब सरकार गठन की ओर जल्द ही कोई ठोस कदम उठाए जा सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें