scorecardresearch
 

NCP में जाते ही बीजेपी पर बरसे एकनाथ खडसे- मेरे पीछे ED लगाई तो मैं आपकी CD जारी कर दूंगा!

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से इस्तीफा देने वाले पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे शुक्रवार को एनसीपी में शामिल हो गए. उन्होंने पार्टी प्रमुख शरद पवार की मौजूदगी में एनसीपी का दामन थामा.

एनसीपी में शामिल हुए एकनाथ खडसे (फाइल फोटो) एनसीपी में शामिल हुए एकनाथ खडसे (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एनसीपी में शामिल हुए एकनाथ खडसे
  • शरद पवार की मौजूदगी में हुए शामिल
  • एनसीपी से जुड़ने के बाद बीजेपी पर बरसे

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से इस्तीफा देने वाले पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे शुक्रवार को एनसीपी में शामिल हो गए. उन्होंने पार्टी प्रमुख शरद पवार की मौजूदगी में एनसीपी का दामन थामा. एनसीपी से जुड़ने के बाद एकनाथ खडसे बीजेपी पर जमकर बरसे. एकनाथ खडसे ने कहा कि मुझे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की धमकी दी गई. 

महाराष्ट्र के दिग्गज नेता एकनाथ खडसे ने कहा कि मुझे बीजेपी में कठिनाइयों से गुजरना पड़ा. मैं कभी पीछे नहीं हटता. मुझ पर आरोप लगाने के लिए कुछ महिलाओं को साथ लिया गया. 

एकनाथ खडसे ने कहा कि मुझे बताया गया कि अगर मैं पार्टी बदलता हूं तो वे ईडी को मेरे पीछे लगा देंगे. मैंने कहा अगर आप ईडी मेरे पीछे लगाते हैं, तो मैं आपकी सीडी चलाऊंगा. बीजेपी से नाराज खडसे ने कहा कि 40 साल तक पार्टी की सेवा करने के बावजूद मुझे जो मिला वह एसीबी की पूछताछ और छेड़छाड़ का मामला रहा.

देखें: आजतक LIVE TV

बीजेपी के पूर्व नेता ने कहा कि दिल्ली में मेरे कुछ वरिष्ठों ने मुझे एनसीपी में शामिल होने का सुझाव दिया था. बीजेपी में कई वरिष्ठ नेता हैं जो बोलना चाहते हैं, लेकिन वो ऐसा नहीं कर सकते. मुझे भूमि घोटाले के आरोपों का सामना करना पड़ा था, लेकिन अब मैं उजागर करूंगा कि कुछ लोगों ने कितनी भूमि का अधिग्रहण किया है. बस कुछ समय का इंतजार करें. 

वहीं, एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि एकनाथ खडसे ने वही किया जो वह चाहते थे. एकनाथ खडसे के महाराष्ट्र कैबिनेट में शामिल होने की संभावनाओं पर पवार ने कहा कि कैबिनेट में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा. 

भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद सरकार से दिया था इस्तीफा

बता दें कि साल 2015 में भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद एकनाथ खडसे ने देवेंद्र फडणवीस की सरकार से इस्तीफा दिया था. उसी के बाद से ही खडसे का राजनीतिक करियर ढलान पर रहा है. एकनाथ खडसे के समर्थकों का कहना है कि देवेंद्र फडणवीस के कारण ही उन्हें किनारे किया गया.

इसी के बाद 2019 के विधानसभा चुनाव में एकनाथ खडसे को टिकट नहीं मिला था, जिसके बाद उन्होंने देवेंद्र फडणवीस पर सीधा हमला बोलना शुरू किया. हालांकि, उनकी बेटी रोहिणी को टिकट मिला था, जो कि चुनाव हार गई थीं. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें