scorecardresearch
 

मुंबई: ट्रैवल एजेंसी मालिक ने भुगतान रोका तो ड्राइवर ने फूंक डालीं 3 करोड़ की 5 बसें

पहले पुलिसवालों को बताया गया कि बसों में बैटरी का रिपेयर वर्क होना था, शायद वही इनके आग पकड़ने का कारण हो सकता है. लेकिन एक महीने के अंतराल में ही इस तरह की दो घटनाओं में पांच बसों का जलना पुलिस को असामान्य लग रहा था.  

भुगतान रोका तो ड्राइवर ने फूंक डाली बसें  भुगतान रोका तो ड्राइवर ने फूंक डाली बसें
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ट्रैवल एजेंसी मालिक ने रोक दिया था भुगतान
  • गुस्से में ड्राइवर ने फूंक डाली 5 बसें
  • कोरोना काल में सिर्फ 10 दिन किया था काम

मुंबई का एक शख्स जिस ट्रैवल एजेंसी में ड्राइवर के तौर पर काम करता था, उसने उसी एजेंसी के मालिक से बदला लेने के लिए उसकी पांच बसों को फूंक डाला. मुंबई पुलिस ने शनिवार को इस ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया. उसे रविवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा. एमएचबी पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है. गिरफ्तार शख्स की पहचान 24 साल के अजय सारस्वत के तौर पर हुई है.  

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक आत्माराम ट्रैवल एजेंसी की पांच बसें एक महीने में फूंक डाली गईं. पहली घटना 24 दिसंबर 2020 को हुई, जब 3 बसें जलाई गईं. फिर इसी तरह 21 जनवरी 2021 को दो और बसें जली हुई पाई गईं. पुलिस को संदेह हुआ कि सिर्फ आत्माराम एजेंसी की बसें ही क्यों आग पकड़ रही हैं.

पहले पुलिसवालों को बताया गया कि बसों में बैटरी का रिपेयर वर्क होना था, शायद वही इनके आग पकड़ने का कारण हो सकता है. लेकिन एक महीने के अंतराल में ही इस तरह की दो घटनाओं में पांच बसों का जलना पुलिस को असामान्य लग रहा था.  

ट्रैवल एजेंसी के मालिक ने अपने एक कर्मचारी पर शक जताया जो बस ड्राइवर था. मालिक और उस ड्राइवर के बीच भुगतान के मसले पर तकरार हुई थी.  

ट्रैवल एजेंसी मालिक ने पुलिस को बताया कि कोरोना महामारी के दौर में उसे ड्राइवरों की जरूरत थी, उसी वक्त अजय सारस्वत ने सिर्फ दस दिन के लिए काम किया था. अजय के बस चलाते वक्त गोवा में एक्सीडेंट हुआ था जिससे बस को बहुत नुकसान पहुंचा था.

इस वजह से ट्रैवल एजेंसी मालिक ने अजय के कुछ बकाया पैसे का भुगतान नहीं किया था. इसी को लेकर दोनों के बीच काफी कहा-सुनी भी हुई थी.  

देखें: आजतक LIVE TV

पुलिस ने अजय को थाने में बुलाकर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बसों को जलाना कबूल कर लिया. अजय ने बताया कि वो पहले माचिस से बस के पर्दों को जलाता था जिससे पूरी बस आग पकड़ लेती थी.

अजय के मुताबिक उसने ट्रैवल एजेंसी मालिक से बदला लेने के लिए ऐसा किया. ट्रैवल एजेंसी मालिक को 3 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें