scorecardresearch
 

मुझपर मोदी से मिले होने का आरोप लगाते थे लोग, पर गले कौन मिला? : ओवैसी

सुप्रीम कोर्ट के जज एके गोयल को NGT का प्रमुख बनाने पर मोदी सरकार पूरी तरह से घिरी हुई है. कई विपक्षी दलों के अलावा एनडीए में शामिल रामविलास पासवान की पार्टी ने भी इस पर सवाल खड़े किए हैं. अब इस लिस्ट में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का नाम भी जुड़ गया है.

AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी

महाराष्ट्र में चल रहे मराठा आंदोलन के बीच AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने यहां के सांगली में रैली को संबोधित किया. शुक्रवार को रैली में ओवैसी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला. सुप्रीम कोर्ट के जज एके गोयल को NGT का प्रमुख बनाने को लेकर ओवैसी ने कहा कि जिस दिन SC/ST कानून खत्म किया गया और जिन जज ने ये फैसला दिया, मोदी सरकार ने उन्हें ही NGT का प्रमुख बना दिया.

ओवैसी ने सवाल दागा कि मोदी जी, क्या यही है आपकी दलितों से मोहब्बत? उन्होंने कहा कि जब ये फैसला हुआ तो कांग्रेस-एनसीपी किसी ने कुछ नहीं कहा. उन्होंने कहा कि अगर ऐसा फैसला लिया गया तो आने वाली नस्लें हमें माफ नहीं करेंगी. हम हिंदू भाइयों के खिलाफ नहीं हैं, बल्कि इंसाफ मांग रहे हैं.

मराठा आरक्षण के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि अगर आपको मराठों को आरक्षण देना है तो बराबर दो. लेकिन मुसलमानों को क्यों नहीं देते, हमनें क्या गुनाह किया है.

उन्होंने कहा कि हर कोई मुझपर आरोप लगाता है कि मैं मोदी जी से मिला हुआ हूं. लेकिन कांग्रेस-एनसीपी को बताना चाहिए कि आखिर मोदी से गले मिले, किसने सीना से सीना मिलाया. अगर पूछो तो कहते हैं कि प्यार से नफरत को खत्म करेंगे.

ओवैसी बोले कि महाराष्ट्र से 48 सांसद संसद गए लेकिन एक भी मुसलमान नहीं था. उन्होंने आरोप लगाया कि पीएम मोदी हर बार विदेश चले जाते हैं, चार में उनके ऊपर 1400 करोड़ रुपए का खर्च हुआ.

AIMIM चीफ ने कहा कि जब से बीजेपी की सरकार बनी है, तभी से गरीब-कमजोरों को दबाया जा रहा है. बीजेपी मुसलमानों के दिल में डर पैदा करना चाहती है. ओवैसी ने इस दौरान कई मुद्दों पर बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें