scorecardresearch
 

Amaravati violence: त्रिपुरा हिंसा के खिलाफ महाराष्ट्र में बवाल बढ़ा, अमरावती के बाद चार और कस्बों में कर्फ्यू

Amaravati violence: रविवार को अमरावती में स्थिति सामान्‍य रही, लेकिन ऐहतियातन अमरावती में में 8 स्‍टेट रिजर्व पुलिस फोर्स की बटालियन तैनात की गई हैं. इस बात की जानकारी डिस्ट्रिक्‍ट गार्जियन मिनिस्‍टर यशोमती ठाकुर ने दी. 

X
Amaravati violence Amaravati violence
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अमरावती में स्थिति सामान्‍य बनी हुई है
  • एसआरपीएफ और पुलिस बल भी तैनात
  • इंंटरनेट सेवा पर लगा है बैन

Amaravati violence Update: महाराष्‍ट्र के अमरावती शहर के अलावा चार और कस्‍बो मोर्शी, वरुद, अचलपुर, अंजनगांव सुरजी में कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है, बीजेपी के प्रदर्शन के बाद ऐसा हुआ है. पुलिस ने जानकारी दी है कि शुक्रवार और शनिवार को जो पत्‍थरबाजी हुई थी, उसके बाद पुलिस ने 50 लोगों को गिरफ्तार किया है. 

रविवार को अमरावती में स्थिति सामान्‍य रही, लेकिन ऐहतियातन अमरावती में में 8 स्‍टेट रिजर्व पुलिस फोर्स की बटालियन तैनात की गई हैं. इस बात की जानकारी डिस्ट्रिक्‍ट गार्जियन मिनिस्‍टर यशोमती ठाकुर ने दी. 

शनिवार को हुई हिंसा के बाद पूर्वी महाराष्‍ट्र के अमरावती शहर में चार दिन के लिए Curfew लगा दिया गया है. पुलिस ने जानकारी दी है कि इंटरनेट सेवाएं भी रोक दी गई हैं. दरअसल, उपद्रवियों ने बंद के दौरान पत्‍थरबाजी की थी. आरोप है कि ऐसा कथित तौर पर भाजपा के कार्यकर्ताओं ने किया था.

त्रिपुराः गोमती जिले की मस्जिद में नहीं हुई तोड़फोड़, खबरों को सरकार ने बताया गलत
 
अगली बार हमला करने वालों का नाम-पता पूछूंगी...सुष्मिता देव का त्रिपुरा पुलिस पर तंज

इससे पहले शुक्रवार को मुस्लिम संगठनों ने त्रिपुरा की हिंसा के विरोध में रैली निकाली थी. शुक्रवार को मुस्लिम संगठनों की जो रैलियां अमरावती, नांदेड़ और मालेगांव (नासिक ), वाशिम और यवतमाल में निकली थीं. यहां पत्‍थरबाजी की घटनाएं सामने आई थी. 

हालांकि, अब अमरावती में स्थिति नियंत्रण में है. यहां जलना, नागपुर, वर्धा और बुलढाणा जिलों से SRPF और पुलिस के जवान बुलाए गए हैं. ये सभी अमरावती में उन जगह तैनात हैं, जहां हालात चिंताजनक हैं. इसी बीच भारतीय जनता पार्टी ने अमरावती के ग्रामीण इलाकों में बंद का आयोजन किया.

पुलिस ने इस मामले में महाराष्‍ट्र के पूर्व कृषि मंत्री अनिल बोंदे और पूर्व एमएलसी प्रवीन पोते के अलावा अमरावती ग्रामीण की बीजेपी अध्‍यक्ष निवेदिता चौधरी को हिरासत में लिया है. अब तक अमारवती में हिंसा के मामले में बीजेपी के वारुद और शेंदुराजनघाट गांव से 8 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है. इन पर नारे लगाने का आरोप है .  
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें