scorecardresearch
 

हिट एंड रन केसः गवाह बोले- नशे में थे सलमान खान, जैसे ही गाड़ी से उतरे गिर गए

2002 के हिट एंड रन केस में सलमान खान की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. आज सुनवाई के दौरान दो गवाहों ने सलमान खान को पहचान लिया और उसने कोर्ट को बताया कि सलमान हादसे के वक्त नशे में थे.

X
सलमान खान सलमान खान

2002 के हिट एंड रन केस में सलमान खान की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. आज सुनवाई के दौरान दो गवाहों ने सलमान खान को पहचान लिया और उसने कोर्ट को बताया कि सलमान हादसे के वक्त नशे में थे. वह जैसे ही गाड़ी से बाहर निकले जमीन पर गिर गए और कुछ ही मिनटों के बाद वहां से भाग गए.

गौरतलब है कि मंगलवार को 12 साल बाद मामले का फ्रेश ट्रायल शुरू हुआ है. इस बार सलमान पर गैर-इरादतन हत्या का मामला चलाया जा रहा है. आज सुनवाई के दौरान खुद सलमान खान कोर्ट में मौजूद थे. वहीं उनकी बहन अर्पिता भी इस दौरान मौजूद थी.

हिट एंड रन केस का खाका-चिट्ठा!
हिट एंड रन केस के चक्कर में सलमान के लिए तारीख पर तारीख की ये कहानी शुरू होती है 28 सितंबर 2002 को. उस रात में सलमान जे वी मेरियेट होटल से एक पार्टी के बाद घर लौट रहे थे. लेकिन रास्ते में उनकी लैड क्रूजर कार फुटपाथ पर सो रहे लोगों पर चढ़ गई. इस हादसे में एक की जान चली गई जबकि तीन बुरी तरह से घायल हो गए. कहा गया कि जिस वक्त ये हादसा हुआ उस वक्त सलमान नशे में चूर थे और गाड़ी वही चला रहे थे.

लेकिन इस मामले की सुनवाई शुरू होने में तकरीबन तीन साल लग गए और फिर 2005 में बांद्रा के मेट्रिपॉलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट में मामले की सुनवाई शुरु हुई. उस सुनवाई को भी अब आठ साल से ज्यादा हो गया हैं लेकिन आज भी तारीख पर तारीख का सिलसिला जारी ही है.

इस केस में सलमान पर पहले मामले की शुरुआत लापरवाही से ड्राइविग करने से मामले से शुरु हुई थी और आज उनपर गैर इरादतन हत्या का मुकदमा चल रहा है. अगर अदालत उन्हें दोषी करार देती है तो सलमान को दस साल तक की सजा हो सकती है.

केस की अहम तारीखें
- 2 सितंबर 2005- सलमान के खिलाफ कोर्ट की कार्यवाही शुरू की गई
- 2006- 39 गवाहों में से सिर्फ एक कोर्ट में पेश हुआ.
- 6 अक्टूबर 2006- लोकल कोर्ट ने सलमान के खिलाफ 10 आरोप दर्ज किए. अब तक सलमान पर आईपीसी धारा 304 A के तहत तेज गति और लापरवाही से चलाने का आरोप था. जिसकी सज़ा 2 साल होती है.
- 2007 में सलमान की मेडिकल रिपॉर्ट में ये साबित हुआ कि हादसे की रात सलमान नशे में थे. उनके खून में 62 mg alcohol की मात्रा पाई गई.
- 24 जुलाई 2013- सलमान के खिलाफ गैर- इरादतन हत्या का आरोप लगाया गया.जिसकी सज़ा 10 साल होती है.
- तारीखों का खेल यहीं खत्म नहीं हुआ. इसके बाद पिछले साल पांच दिसंबर 2013 को कोर्ट ने सलमान के खिलाफ फ्रेश ट्रायल का फैसला सुना दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें