scorecardresearch
 

हनी ट्रैप केसः MP में राजनीतिक भूचाल, हाई-प्रोफाइल महिला गिरफ्तार

मध्य प्रदेश के राजनीतिक हलकों में हनी ट्रैप का मामला इन दिनों गरमाया हुआ है. पुलिस सूत्रों के अनुसार हनी ट्रैपिंग करने और कुछ लोगों को ब्लैकमेल करने के आरोप में राज्य में कई गिरफ्तारियां हुई हैं जिसमें एक हाई-प्रोफाइल महिला भी शामिल है.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

  • मध्य प्रदेश में हनी ट्रैप का मामला गरमाया
  • भोपाल और इंदौर से हुई कई गिरफ्तारियां
  • गिरफ्तार महिला में से एक हाई-प्रोफाइल

मध्य प्रदेश के राजनीतिक हलकों में हनी ट्रैप का मामला इन दिनों गरमाया हुआ है. पुलिस सूत्रों के अनुसार हनी ट्रैप बिछाने और कुछ लोगों को ब्लैकमेल करने के आरोप में गुरुवार को इंदौर से 2 महिलाएं गिरफ्तार की गई हैं. वहीं, भोपाल से इसी मामले में 3 अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है. गिरफ्तार महिलाओं में एक राज्य की हाई-प्रोफाइल महिला बताई जा रही है.

एसएसपी (इंदौर) रुचि वर्धन के अनुसार एक क्रेटा कार से 14.17 लाख रुपये बरामद किए गए हैं. इंदौर नगर निगम के उप इंजीनियर हरभजन सिंह ने शिकायत दर्ज कराई थी कि भोपाल में रहने वाली आरती दयाल नाम की एक लड़की और उसकी सहयोगी मोनिका यादव उसे ब्लैकमेल कर रही थीं और उससे 3 करोड़ की मांग कर रही थीं. दो लोग बुधवार को इंदौर आए और क्रेटा कार से 50 लाख की पहली किस्त ली. बाद में वे पकड़े गए.

पुलिस के अनुसार, ओम प्रकाश कोरी नाम का ड्राइवर जो उनका साथी था वो भी पकड़ा गया. तीनों आरोपियों से पूछताछ के आधार पर भोपाल की मिनल रेजिडेंसी से श्वेता जैन के अलावा भोपाल की ही रिवेरा टाउनशिप से दूसरी श्वेता जैन को गिरफ्तार किया गया. भोपाल के कोटरा सुल्तानाबाद से बरखा सोनी को गिरफ्तार किया गया. ब्लैकमेल करने के मामले में अब तक 6 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

अंतिम समय में कटा था टिकट

सूत्र बताते हैं कि हनी ट्रैप मामले में सत्तारुढ़ कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के नेता शामिल बताए जा रहे हैं. पुलिस सूत्रों के अनुसार मुख्य आरोपी का प्रभात झा के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष रहने के दौरान पार्टी में खूब आना-जाना था और वह उनकी करीबी सहयोगी थी.

सूत्रों के अनुसार, बीजेपी एक समय आरोपी महिला को सागर मेयर पद के लिए टिकट देने पर विचार कर रही थी, लेकिन चुनाव से पहले उसका एमएमएस लीक हो जाने के कारण अंतिम समय में टिकट काट दिया गया. जबकि दूसरे आरोपी का कांग्रेस आईटी सेल से नाता रहा है.

कांग्रेस मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह ने बीजेपी से नाता रखने वाली मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी का समर्थन करते हुए कहा है कि यह जासूसी जैसी गतिविधियों में शामिल रहना बीजेपी की संस्कृति है. उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस से जुड़ा कोई इस मामले में शामिल पाया जाता है तो वह उसे हर संभव कड़ी से कड़ी सजा दिलाए जाने की व्यवस्था करेंगे.

गृह मंत्री बाला बच्चन का कहना है कि इस मामले में शामिल लोगों के बारे में आज शाम तक पता चल जाएगा, लेकिन किसी को छोड़ा नहीं जाएगा.

सूत्रों के अनुसार, मुख्य आरोपी जुलाई में मध्य प्रदेश सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव के हाल में आए सेक्स सीडी कांड में शामिल था. कांड के सामने आने और उसके वायरल होने के बाद अतिरिक्त सचिव को अवकाश पर जाने को मजबूर किया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें