scorecardresearch
 

झारखंड में सोरेन सरकार को झटका, मरांडी की पार्टी JVM ने वापस लिया समर्थन

झारखंड की सोरेन सरकार से झारखंड विकास मोर्चा ने समर्थन वापस ले लिया है. वहीं झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंत्रिमंडल विस्तार टालने का फैसला किया है.

जेवीएम का झारखंड सरकार से समर्थन वापस (फाइल फोटो) जेवीएम का झारखंड सरकार से समर्थन वापस (फाइल फोटो)

  • झारखंड विकास मोर्चा ने झारखंड की सोरेन सरकार से समर्थन लिया वापस
  • झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का मंत्रिमंडल विस्तार टालने का फैसला

झारखंड विकास मोर्चा (जेवीएम) ने झारखंड की सोरेन सरकार से समर्थन वापस ले लिया है. पार्टी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस उनके दो विधायकों को अपने पाले में लेने की कोशिश कर रही है.

दरअसल, झारखंड की सियासत में ऐसी चर्चा हो रही थी कि झारखंड विकास मोर्चा के विधायक बंधु टिर्की और प्रदीप यादव कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं. गुरुवार को विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की थी.

यह भी पढ़ें: बाबूलाल मरांडी के दो MLA थाम सकते हैं कांग्रेस का हाथ, सोनिया-राहुल से की मुलाकात

वहीं जेवीएम ने सरकार से समर्थन तब वापस लिया है, जब इस बात की चर्चा हो रही है कि उसका बीजेपी में विलय हो सकता है. जेवीएम के दोनों विधायक इसका विरोध कर रहे हैं. बाबूलाल मरांडी और दोनों विधायक के बीच मनमुटाव चल रहा था, जिसकी वजह से मरांडी ने बंधु तिर्की को तो पार्टी से भी निकाल दिया है.

jharkhand_012420062515.jpgसमर्थन वापस लेने का पत्र

मंत्रिमंडल का विस्तार टला

वहीं दूसरी तरफ झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने मंत्रिमंडल का विस्तार टालने का फैसला किया है. पश्चिमी सिंहभूम में सात ग्रामीणों की हत्या के बाद सोरेन ने ये फैसला किया है. हालांकि मंत्रिमंडल का विस्तार टालने के पीछे की वजह जेवीएम विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों को भी माना जा रहा है.

यह भी पढ़ें: सोरेन राज में 'खूंखार' हुआ पत्थलगड़ी, आंदोलन विरोधी 7 लोगों की हत्या

मंत्रिमंडल विस्तार टाले जाने पर विपक्ष ने भी कटाक्ष किया है. बीजेपी प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा है कि केवल कहने से या मंत्रिमंडल विस्तार के कार्यक्रम को टालकर मन व्यथित नहीं होता. मुख्यमंत्री का मन व्यथित दिखावा है. अगर उनका मन इतना ही व्यथित है तो वह इस्तीफा क्यों नहीं दे रहे हैं. कांग्रेस के दबाव में मंत्रिमंडल विस्तार टाला गया है.

(आईएएनएस से इनपुट)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें