scorecardresearch
 

PAK ने फिर तोड़ा सीजफायर, आरएसपुरा और पुंछ में फायरिंग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जम्मू-कश्मीर यात्रा से ठीक पहले पाकिस्तानी रेंजर्स ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया है. पड़ोसी मुल्क ने गुरुवार तड़के 2 बजे से 5 बजे तक जम्मू के आरएसपुरा और पूंछ में फायरिंग की है. बीएसएफ ने जवाबी कार्रवाई कर पाक सेना को मुंहतोड़ जवाब दिया है. ताजा हमले में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है.

symbolic image symbolic image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जम्मू-कश्मीर यात्रा से ठीक पहले पाकिस्तानी रेंजर्स ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया है. पड़ोसी मुल्क ने गुरुवार तड़के 2 बजे से 5 बजे तक जम्मू के आरएसपुरा और पुंछ में फायरिंग की है. बीएसएफ ने जवाबी कार्रवाई कर पाक सेना को मुंहतोड़ जवाब दिया है. ताजा हमले में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है.

इससे पहले बुधवार को भी पाकिस्तान ने अखनूर सेक्टर में दो बार गोलीबारी की थी, जिसमें एक महिला की मौत हो गई और दो बीएसएफ जवान सहित छह लोग घायल हो गए. बुधवार को हुई फायरिंग के बाबत बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'पाकिस्तानी रेंजर्स ने बुधवार सुबह लगभग आठ बजकर 45 मिनट पर जम्मू जिले में अखनूर तहसील के कनाचक सेक्टर स्थित अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बनी सीमा चौकी की रखवाली कर रहे एक जवान पर गोलियां चलाईं.'

उन्होंने कहा कि जब बीएसएफ के कर्मियों ने घायल जवान को एक गाड़ी में वहां से निकालने की कोशिश की तो पाकिस्तानी रेंजर्स ने उन पर भारी गोलीबारी की. इस पर जवानों ने मोर्चा संभाला और जवाब दिया. एक प्रवक्ता ने बताया कि गोलीबारी से घायल हुए छह लोगों में दो जवान अंजनी कुमार और वाईपी तिवारी शामिल हैं. गोलीबारी सिर्फ अखनूर-कनाचक सेक्टरों तक ही सीमित रही जहां भारत के पांच सीमा चौकियां उसकी जद में आए.

 

असैन्य क्षेत्रों में भी गोलीबारी
एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इसके बाद सुबह नौ बजकर दस मिनट पर सीमा चौकियों के अलावा पाकिस्तानी रेंजर्स ने हल्के हथियारों से असैन्य क्षेत्रों को भी निशाना बनाया और भलवाल भारथ, मालाबेला और सिदेरवान पर गोलीबारी की. उन्होंने कहा कि तीन मोर्टार अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास कनाचक सेक्टर के काफी अंदर आकर गिरे.

सीजफायर उल्लंघन में पोली देवी नामक 42 वर्षीय एक महिला की मौत हो गई. घायल हुए असैन्य नागरिकों में 24 वर्षीय रमेश कुमार और 38 वर्षीय उषा देवी और सुनिंदर सिंह शामिल हैं. 21 चेनाब रेंजर्स (पाकिस्तान) ने आजम, पीर गराना, मेलाबेला इलाकों से भारत की सिदरवान और मालाबेला सीमा चौकियों पर गोलियां और मोर्टार दागे.

गोलीबारी की यह घटना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 17 जुलाई को होने वाली जम्मू यात्रा से पहले हुई है. प्रधानमंत्री यहां राज्य के पूर्व वित्त मंत्री गिरधारी लाल डोगरा के शताब्दी समारोह में शिरकत करने आ रहे हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें