scorecardresearch
 

पीएम आवास पर आज कैबिनेट की बैठक, कश्मीर को लेकर हो सकता है बड़ा फैसला

बैठक के एजेंडे को पूरी तरह से टॉप सीक्रेट रखा गया है और इसे सीधे कैबिनेट में लाया जाएगा. बताया जा रहा है कि कैबिनेट बैठक में कश्मीर को लेकर कोई बड़ा फैसला हो सकता है.

पीएम मोदी (फाइल फोटो) पीएम मोदी (फाइल फोटो)

कश्मीर में तेजी से बदलते घटनाक्रम के बीच आज (सोमवार) दिल्ली में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक होगी. ये बैठक सुबह 9.30 बजे प्रधानमंत्री आवास पर होगी. बैठक के एजेंडे को पूरी तरह से टॉप सीक्रेट रखा गया है और इसे सीधे कैबिनेट में लाया जाएगा. बताया जा रहा है कि कैबिनेट बैठक में कश्मीर को लेकर कोई बड़ा फैसला हो सकता है.

इन अटकलों को इसलिए भी हवा मिल रही है क्योंकि अब तक सरकार और सेना आतंकवाद की कमर तोड़ने का दावा कर रही थी, ऐसे में महज कुछ हथियार मिलने के आधार पर अमरनाथ यात्रा रद्द करने और बाहरी लोगों के कश्मीर छोड़ने का फरमान सुनाने के पीछे लोग बड़ी वजह तलाश रहे हैं. यही नहीं, ये भी संकेत दिए जा रहे थे कि नवंबर के आसपास कश्मीर में चुनाव होंगे. ऐसे में सवाल वाजिब है कि जब अमरनाथ यात्रा नहीं हो सकती तो फिर चुनाव कैसे होंगे?

आज होने वाली कैबिनेट बैठक से पहले रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने एक उच्चस्तरीय सुरक्षा बैठक की अध्यक्षता की. बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, गृह सचिव राजीव गौबा, खुफिया ब्यूरो (आईबी) के प्रमुख अरविंद कुमार, रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) के प्रमुख सामंत कुमार गोयल और गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया.

कश्मीरी नेताओं की भी हुई बैठक

कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से जिस तरह से हलचल बढ़ी है उसके बाद से वहां के नेता भी लगातार बैठक कर रहे हैं. रविवार को नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के आवास पर एक सर्वदलीय बैठक हुई. बैठक में पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती भी शामिल हुईं.

यह बैठक जम्मू कश्मीर के मौजूदा हालात पर केंद्रित थी जिसमें विशेष राज्य के दर्जे पर चर्चा की गई. बैठक के बाद फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि किसी सूरत में जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा नहीं छीना जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि हम हिंदुस्तान के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से अपील करते हैं कि ऐसा कोई कदम न उठाया जाए जिससे घाटी के अमन चैन में खलल पड़े. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में सेना की तैनाती से लोगों में डर है और ऐसा पहले कभी नहीं हुआ कि अमरनाथ यात्रा रद्द की गई हो.

बैठक से पहले महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला नजरबंद

उधर आज होनी वाली कैबिनेट बैठक से कुछ देर पहले रविवार रात को जम्मू कश्मीर के दो बड़े नेताओं को नजरबंद कर दिया गया. पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती और एनसी नेता उमर अब्दुल्ला को श्रीनगर में नजरबंद किया गया. लगातार हो रही कार्रवाई से भी इन अटकलों को बल मिल रहा है कि आज की बैठक में सरकार कश्मीर को लेकर फैसला ले सकती है.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें