scorecardresearch
 

कोरोना वायरस: कश्मीर में 4 और पॉजिटिव केस मिले, 33 पहुंची मरीजों की संख्या

चार मरीजों में 2 शोपियां के हैं और उन्होंने इंडोनेशिया का दौरा किया है. दो मरीजों की उम्र 26 से 40 साल के बीच बताई जा रही है. रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों शख्स ने जम्मू से श्रीनगर अपने घर जाने के लिए सूमो गाड़ी पकड़ी थी. उस गाड़ी में बेमिना श्रीनगर का एक कोविड-19 का मरीज भी था.

कोरोना वायरस के खतरे के बीच जम्मू बस स्टैंड पर फंसे यात्री (PTI) कोरोना वायरस के खतरे के बीच जम्मू बस स्टैंड पर फंसे यात्री (PTI)

  • इससे पहले जम्मू संभाग में मिले थे 3 मरीज
  • प्रदेश में मरीजों का कुल आंकड़ा 45 पर पहुंचा

कश्मीर में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है. सोमवार को 4 और नए मरीज मिले जिसके बाद घाटी में इस बीमारी से संक्रमित लोगों की संख्या 33 पर पहुंच गई. 'आजतक' को आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सोमवार को टेस्ट की कुछ रिपोर्ट मिली जिनमें 6 लोगों के पॉजिटिव होने की पुष्टि की गई. इनमें 2-2 मरीज जेएलएनएम और पुलवामा हॉस्पिटल में भर्ती हैं.

इन चार मरीजों में 2 शोपियां के हैं और उन्होंने इंडोनेशिया का दौरा किया है. दो मरीजों की उम्र 26 से 40 साल के बीच बताई जा रही है. रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों शख्स ने जम्मू से श्रीनगर अपने घर जाने के लिए सूमो गाड़ी पकड़ी थी. उस गाड़ी में श्रीनगर का एक कोविड-19 का मरीज भी था. 4 नए मरीजों के सामने आने के बाद कश्मीर में यह आंकड़ा 33 पर पहुंच गया जबकि पूरे जम्मू-कश्मीर में कुल 45 संक्रमित लोगों का पता चला है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

जम्मू-कश्मीर के प्रधान सचिव (योजना, विकास एवं निरीक्षण विभाग) रोहित कंसल ने एक ट्वीट में कहा, कश्मीर में 4 और केस का पता चला है. शोपियां और श्रीनगर से 2-2 मामले सामने आए हैं. इनके संपर्क में जितने लोग आए हैं, उनका पता लगाया जा रहा है. इससे पहले जम्मू में एक साथ 3 नए मामले सामने आए थे. इसके बारे में रोहित कंसल ने कहा था कि आज (सोमवार) कश्मीर से कोरोना वायरस का कोई नया मामला सामने नहीं आया है, जबकि जम्मू संभाग में तीन और पॉजिटिव मामले सामने आए.

इसके साथ, केंद्र शासित प्रदेश में कोरोना वायरस रोगियों की कुल संख्या बढ़कर 41 (कश्मीर के 4 मामले छोड़कर) हो गई है, जिनमें से 27 का इलाज श्रीनगर में और 14 का जम्मू के अस्पतालों में इलाज चल रहा है. जम्मू-कश्मीर मे अब तक कोरोना वायरस से दो मरीजों की मौत हो चुकी है, जबकि दो संक्रमण से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं.

दूसरी ओर, जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने अपने एक रिश्तेदार के निधन पर लोगों से आग्रह किया कि वे शोक जताने न आएं, बल्कि अपने घर से ही मृतात्मा की शांति के लिए प्रार्थना करें.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उमर के इस कदम की सोमवार को सराहना की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से शोकाकुल परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, "उमर अब्दुल्ला जी आपके और पूरे परिवार के प्रति मेरी संवेदना है. उनकी (आपके परिजन की) आत्मा को शांति मिले. दुख की इस घड़ी में शोकसभा में इकट्ठा न होने का आपका आह्वान सराहनीय है. यह कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई को और मजबूत करेगा."

अब्दुल्ला ने रविवार को ट्वीट में जानकारी साझा कर कहा कि उनके चाचा मोहम्मद अली मट्टू का बीमारी के बाद निधन हो गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें