scorecardresearch
 

J-K: 5 मजदूरों की हत्या के बाद एक्शन में सेना, कुलगाम में बड़ा सर्च ऑपरेशन

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में पश्चिम बंगाल के 5 मजदूरों की हत्या के बाद अब सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ बड़े स्तर पर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है.

श्रीनगर में सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन (फाइल फोटो) श्रीनगर में सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन (फाइल फोटो)

  • आतंकियों ने की 5 मजदूरों हत्या
  • मुर्शिदाबाद के रहने वाले हैं मजदूर
  • सेना ने शुरू किया सर्च ऑपरेशन

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में पश्चिम बंगाल के 5 मजदूरों की हत्या के बाद अब सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ बड़े स्तर पर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है. आतंकियों की तलाशी के लिए कई टीमें गठित की गई हैं. सुरक्षाबल जगह-जगह आतंकियों को पकड़ने के लिए छापा मार रहे हैं. मंगलवार शाम आतंकियों ने 5 मजदूरों की किडनैपिंग के बाद उन्हें गोली मार दी थी. आतंकी हमले में घायल एक मजदूर को श्रीनगर अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है.

आस-पास के इलाके में छापेमारी

पुलिस ने घटनास्थल पर अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात कर दिया है. आस-पास से गुजरने वाले सभी वाहनों की तलाशी ली जा रही है. सुरक्षा बलों को शक है कि आतंकी किसी स्थानीय निवासी के मकान में छिपे हुए हो सकते हैं. जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा है कि इस हमले के तार सीमा पार से जुड़े हुए हैं. उन्होंने कहा कि हमले में पाकिस्तानी आतंकवादियों का हाथ है.

पढ़ें: कश्मीर में आतंकियों के टारगेट पर बाहरी मजदूर-ट्रक ड्राइवर, 15 दिन में 11 की ली जान

गैर-कश्मीरियों पर लगातार हमले

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद आतंकी बौखलाए हुए हैं. आतंकी लगातार गैर कश्मीरियों पर हमला कर रहे हैं. हाल के करीब 15 दिन में आतंकी ऐसे ही हमले कर 11 मजदूरों की जान ले चुके हैं. आतंकी कश्मीर से सेब ले जाने वाले ट्रक ड्राइवरों, कंस्ट्रक्शन साइट पर काम करने वाले मजदूरों को निशाना बनाया जा रहा है.

सोमवार को अनंतनाग में आतंकियों ने कटरा के रहने वाले ट्रक ड्राइवर नारायण दत्त की हत्या कर दी थी. आतंकियों ने राजस्थान के भी एक ट्रक ड्राइवर की जान ले ली थी. 14 अक्टूबर से अब तक 4 ट्रक ड्राइवरों, एक सेब कारोबारी और एक मजदूर को आतंकी मौत के घाट उतार चुके हैं. अब कुलगाम में 5 प्रवासी मजदूरों को गोली मारकर आतंकियों ने दहशत की नई सीमा खींच दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें