scorecardresearch
 

J-K: अनंतनाग में संदिग्ध कार बरामद, 3 बीजेपी नेताओं पर हमले में इस्तेमाल का शक

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम के काजीगुंड में कल रात बीजेपी के तीन नेताओं की आतंकियों ने हत्या कर दी थी. पुलिस ने अछबल इलाके से एक कार को बरामद किया है. शक है कि इसका इस्तेमाल आतंकियों ने बीजेपी नेताओं की हत्या में किया था.

सुरक्षाबलों के जवान (फाइल फोटो-PTI) सुरक्षाबलों के जवान (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कुलगाम में हुई थी बीजेपी नेताओं की हत्या
  • पुलिस ने अछबल से बरामद की कार
  • आतंकियों की तलाश में छापेमारी जारी

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम के काजीगुंड में कल रात बीजेपी के तीन नेताओं की आतंकियों ने हत्या कर दी थी. इसे लेकर पूरा काजीगुंड मातम में डूबा हुआ है. मृतकों का जब जनाजा निकला तो सैंकड़ों लोग उमड़ पड़े. इस बीच पुलिस ने अनंतनाग के अछबल इलाके से एक कार को बरामद किया है. शक है कि इसका इस्तेमाल आतंकियों ने बीजेपी नेताओं की हत्या में किया था.

सियासी लिहाज से ऐतिहासिक बदलावों से गुजर रही जम्मू-कश्मीर की धरती एक बार फिर खून से लाल हुई है. सुरक्षा बलों के आगे पस्त हो रहे आतंकियों ने बौखलाहट खूनी खेल खेला. दक्षिण कश्मीर के काजीगुंड में आतंकियों ने कार में सवार बीजेपी के तीन नेताओं पर सामने से गोलियां बरसा दी.

आतंकियों ने इस हमले को उस वक्त अंजाम दिया जब तीनों नेता एक कार से रात साढ़े आठ बजे के करीब घर लौट रहे थे. तीनों को आतंकियों ने घेर लिया और सामने से गोलियां बरसा दी. घेराबंदी ऐसी की गई कि भागने का मौका तक नहीं मिला. इस हमले में फिदा हुसैन के अलावा उमर राशीद बेग और उमर रमजान मारे गए हैं.

इस हत्याकांड से नाराज स्थानीय बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कुलगाम के कलेक्टर और एसपी को हटाने की मागं की है. उनका आरोप है कि अफसरों की लापरवाही के कारण बीजेपी नेताओं की हत्या हुई है. इसके साथ ही स्थानीय बीजेपी नेताओं ने अफसरों पर कार्रवाई न होने तक राजनीतिक गतिविधि में हिस्सा न लेने का ऐलान किया है.

देखें: आजतक LIVE TV

कश्मीर में बीजेपी के नेता हाल के कुछ हफ्तों में आतंकियों के निशाने पर आए हैं. 8 जुलाई को बीजेपी नेता वसीम बारी के अलावा उनके भाई और पिता की हत्या कर दी गई थी. 4 अगस्त को कुलगाम के आखरन नौपुरा में बीजेपी के नेता और संरपच आरिफ अहमद पर जानलेवा हमला हुआ. 6 अक्टूबर को गांदरबल में भी जिला भाजपा उपाध्यक्ष गुलाम कादिर राथर को मार दिया गया था.

कल सुबह ही एनआईए ने कुलगाम में आतंकियों के संदिग्ध ठिकानों पर छापमारी की थी, कुछ घरों की तलाशी ली गई थी। लेकिन कुछ घंटों बाद ही आतंकियों ने तिहरे हत्याकांड को अंजाम दे दिया. जम्मू-कश्मीर के आईजी की माने तो इस हत्याकांड में लश्कर से जुड़े टीआरएफ आतंकी संगठन का हाथ है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें